बागबाहरा(नईदुनिया न्यूज)।

भाजपा नेता एवं पूर्व विधायक परेश बागबाहरा ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार से मजदूरों के खाते मे तुरंत कांग्रेस की न्याय योजना के अंर्तगत साढ़े सात हजार रुपये जमा कराए जाने की मांग की है, जैसा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी चाहते हैं। क्योंकि प्रदेश सरकार के पास अपना खजाना है। परेश ने बताया कि प्रदेश सरकार की वर्ष 20-21 के अनुमानित बजट में लगभग 35 हजार करा़ेड रुपये का राज्यीय आय होना बताया गया है, तथा शराब बिक्री से भी प्रदेश की आय तेजी से बढ़ गई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार प्रवासी मजदूरों के गलत आंकड़े पेश कर रही है। प्रदेश सरकार के आंकड़े को मानें तो ये लगभग एक लाख 60 हजार है, जबकि लेबर कांट्रेक्टर की तथा विभिन्न पंचायत प्रतिनिधियों के अनुसार वास्तविक स्थिति मजदूरों के पलायन (प्रवासी मजदूरों) की संख्या लगभग दस लाख से ज्यादा है। परेश ने कहा कि जितनी ट्रेनों की मांग अब तीसरे लॉकडाउन के अंत में प्रदेश की कांग्रेस सरकार कर रही है, उसमें तो प्रवासी मजदूरों को लाने में छह महीने से ज्यादा का समय लग जाएगा।

परेश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पूरे देश सहित छत्तीसगढ़ में भी मनरेगा के कार्यों को तेजी से खुलवाया है। इसके लिए करोडो रुपये दिया है, जिसके कारण श्रमिकों के घर नगदी रुपये पहुंच रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना