महासमुंद, नईदुनिया न्यूज। तुमगांव स्थित सामुदायिक स्वास्थ केंद्र का जनपद सदस्य योगेश्वर चंद्राकर ने निरीक्षण किया। वहां मरीजों की समस्याओं से अवगत हुए। इस दौरान तुमगांव भाटापारा की नमिता पुत्री मनीराम के कुएं में गिरने की जानकारी मिली, उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली। इस दौरान ग्राम नांदगांव से आए ग्रामीण रूपचंद पटेल ने चंद्राकर से इस बात की शिकायत की कि उसे कुत्ते ने काट लिया है।

कुत्ते के काटने पर जिला अस्पताल महासमुंद गया था। पर उसे एंटी रैबीज का इंजेक्शन नहीं होने की बात कहते हुए तुमगांव अस्पताल भेज दिया गया। जहां चिकित्सक इंजेक्शन की कमी बता रहे थे। ऐसे में चंद्राकर ने प्रभारी सीएमएचओ डॉ. परदल से दूरभाष से इंजेक्शन की उपलब्धता की जानकारी ली।

जिस पर बताया गया कि एंटी रैबीज के लिए मांग पत्र काफी लंबे समय से भेजा गया है। जिला मुख्यालय स्थित 100 बिस्तर के अस्पताल में इस तरह की दवाई की कमी होना और प्रदेशभर में इसकी अनुपलब्धता होने के कारण समस्या बनी हुई है।

ऐसे में चंद्रकर ने इस बात को लेकर कांग्रेस सरकार की स्वास्थ्य विभाग और स्वास्थ्य सेवाओं के प्रति लापरवाही को लेकर खेद व्यक्त किया है। साथ ही शीघ्र स्वास्थ मंत्री को पत्र लिखकर गंभीर समस्या अनिवार्य रूप से एंटी रैबीज के इंजेक्शन उपलब्ध नहीं कराने की स्थिति में उग्र आंदोलन करने की बात कही है। क्योंकि बारिश का मौसम ही वह समय होता है जब कुत्तों के काटने की ज्यादातर घटनाएं आती है।