महासमुंद। Mahasamund News: छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले में दो गुटों के बीच खूनी संघर्ष में तीन लोगों की मौत होने की खबर मिल रही है। बताया जा रहा है कि मारे गए तीनों लोग एक ही परिवार के हैं। जाेबा गांव में आज सुबह दो परिवारों के बीच हुआ विवाद खूनी संघर्ष में बदल गया और वहां खून की नदियां बह गईं। इस घटना में मौके पर ही तीन लोग मारे गए, जबकि चार लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। घटना में दोनों गुटों के लोगों में से कुछ को मौके से गिरफ्तार भी किया गया है। इस पूरी घटना के पीछे संपत्ति विवाद को वजह बताया जा रहा है।

के एक गांव में दो गुटों के बीच जमीन विवाद को लेकर भिड़ंत हो गई। इस टकराव में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई और चार अन्य लोग घायल हैं। यह घटना महासमुंद जिला मुख्यालय से 17 किमी दूर तुमगांव थाना के जोबा गांव की है। महासमुंद के पुलिस अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी है। महासमुंद एसपी ने बताया कि इस विवाद में घायल हुए लोगों को पास के अस्पताल में भर्ती कर दिया गया है, वहीं दो आरोपियों ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है। पुलिस ने जानकारी दी कि इस मामले की जांच अभी जारी है। घायलों को उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तुमगांव लाया गया है। जहां प्राथमिक उपचार गया है। बीएमओ डॉ विपिन रॉय ने बताया कि घायलों की गंभीर स्थिति को देखते हुए रायपुर रेफर किया गया है।

तुमगांव थाना क्षेत्र के जोबा गांव की यह घटना है। यहां शुक्रवार अल सुबह ग्रामीण नींद से जागे तो लहूलुहान पड़े लोगों को देखा। धारदार हथियार से गले में वार कर मौत के घाट उतार दिया था। मृतकों की पहचान 40 वर्षीय जागृति पत्नी ओस कुमार, उसकी 16 साल की बेटी टीना और नौ साल का बेटा मनीष को मार के रूप में हुई है, वहीं अन्य चार घायल में ओस कुमार (43), ओस कुमार की मां अनार बाई (65), और ओस कुमार साहू के दो संतान ओमन (20) और गीतांजलि उर्फ कोंदी (18) घायल हैं। हत्या की वजह पैतृक जमीन विवाद बताया जा रहा है।

पुलिस ने गांव के ही परस गायकवाड़ (62) और ब्रिजसेन गायकवाड़ (27) को हिरासत में लिया है, जिनसे पूछताछ जारी है। हिरासत में लिए गए लोगों की क्राइम हिस्ट्री रही है। पुलिस बल बड़ी संख्या में घटनास्थल पर तैनात किया गया है। मामले में तुमगांव पुलिस ने मर्ग कायम कर विवेचना में लिया है। जानकारी के अनुसार सुबह जब ग्रामीणों ने खून से लतपथ पड़े लोगों को देखा तो इसकी सुचना पुलिस को दी और घायलों को 108 की मदद से तत्काल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तुमगांव पहुंचाया। जहां से रायपुर रेफर किया गया।

Posted By: Himanshu Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020