महासमुंद। गांधी कांग्रेस भवन में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती मनाई गई। नेताजी द्वारा भारत की आजादी के लिए किए गए कार्यों पर व्याख्यान रखा गया, जिसमें सभी कांग्रेसियों ने अपने-अपने विचार रखे। अतिथियों ने कहा कि देश की आजादी में नेताजी का अतुलनीय योगदान है।

नेताजी ने भारत के आजादी के लिए 'आजाद हिंद फौज' का गठन करके जापान, जर्मनी एवं अन्य देशों के सहयोग से द्वितीय विश्व युद्ध में इंग्लैंड के खिलाफ जंग छेड़ दिया तथा आजाद हिंद फौज की सहायता से भारत के कई राज्यों पर अंग्रेजों से युद्ध कर कई प्रदेशों को आजाद करने की मुहिम चलाई। जिससे आजादी की लड़ाई की रफ्तार तेज हो गई।

नेताजी ने 'तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा' का नारा बुलंद किया, जिससे देश के युवा वर्ग में व भारतवासियों में देश प्रेम का सैलाब आ गया। जय हिंद का नारा देकर देश की आजादी में अहम भूमिका का निर्वहन किया।

सन 1938 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने गए,व कुछ समय पश्चात आजाद हिंद फौज का सुप्रीम कमांडर बने नेताजी ने पांच जुलाई 1943 को सिंगापुर टाउन हाल के सामने सुप्रीम कमांडर के रूप में सेना को संबोधित करते हुए दिल्ली चलो का नारा दिया। भारत देश के आजादी में नेताजी सुभाष चंद्र बोस के द्वारा किए गए का्‌यों का भुला पाना असंभव है। उक्त कार्यक्रम में खिलावन बघेल अध्यक्ष शहर कांग्रेस कमेटी, प्रमोद चंद्राकर जिला उपाध्यक्ष,सोमेश दवे संयुक्त महामंत्री, शहर प्रभारी महामंत्री गुरमीत चावला, राजू साहू उपाध्यक्ष,प्रदीप चंद्राकर प्रदेश महामंत्री पिछड़ा वर्ग, छन्नाू साहू किसान नेता, तुलसी साहू,अनवर हुसैन, सचिन गायकवाड़ पूर्व पार्षद शकील खान, पुनीत राम चौहान सेवादल, कुणाल चंद्राकर,मिंदर चावला, मेहुल सूचक, बसंत चंद्राकर,देवनारायण ध्रुव, नितेन्द्र बेनर्जी जिलाध्यक्ष मीडिया, मनोहर ठाकुर, अब्दुल जावेद, चंद्रेश साहू अध्यक्ष मीडिया, रमेश ठाकुर इत्यादि शामिल हुए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local