महासमुंद। शासन से लोगों की सुविधा के लिए शुरू किया गया आनलाइन भुंईया सॉफटवेयर आवेदकों और पटवारियों के लिए सुविधा देने की बजाए परेशानी का कारण बना हुआ है।

साफ्टवेयर में आ रही तकनीकी समस्या के कारण जहां एक ओर लोगों का समय पर काम नहीं हो पा रहा है वहीं काम हो चुके लोगों को फिर से सुधार कराने के लिए चक्कर काटना पड़ रहा है। जानकारी के अनुसार वर्तमान में साफ्टवेयर में जो परेशानी सामने आ रही है उससे पटवारी सबसे ज्यादा परेशान हैं।

दरअसल, पटवारियों ने साफ्टवेयर में कुछ दिन पूर्व दर्ज किया डाटा अपने आप ही गायब हो जा रहा है तो वहीं डाटा अपलोड करने के बाद साफ्टवेयर अचानक बंद हो जा रहा है जिसे लेकर पटवारी परेशान है।

बता दें कि कुछ माह पूर्व साफ्टवेयर में आ रही दिक्कतों को देखते हुए शासन की ओर से साफ्टवेयर को मेंटनेंस के लिए करीब पखवाड़े भर के लिए बंद किया गया था। जिसके बाद आवेदकों के साथ ही पटवारियों की था़ेडी राहत मिली थी लेकिन इसके बाद समस्या फिर ज्यों की त्यों हो गई है जिससे लोगों के साथ पटवारियों को भी परेशान है।

---

क्या कहते हैं पटवारी

पटवारी संघ ब्लाक अध्यक्ष नितेश श्रीवास्तव का कहना है कि सुधार के कुछ दिन बाद तक तो साफ्टवेयर ठीक चला लेकिन फिर वहीं समस्या शुरू हो गई है।

पटवारी चंचल ठाकुर का कहना है कि साफ्टवेयर अभी भी स्लो चल रहा है। कभी डिजिटल सिग्नेचर गायब हो जाता है तो कभी एंट्री किया हुआ डाटा ही गायब हो जाता है। इससे वे तो परेशान हैं ही आवेदक भी परेशान हैं। जिसके कारण उनका कार्य भी प्रभावित हो रहा है।

पटवारी दूधनाथ साहू का कहना है कि कुछ कार्य हो रहे है लेकिन साफ्टवेयर की तकनीकी खराबी के कारण कई कार्य रुक जा रहे हैं।

दिक्कतें है, सुधार शासन स्तर का मामला

साफ्टवेयर में दिक्कतें है तो है। कुछ माह पूर्व सुधार भी हुआ था इसके बाद फिर से दिक्कतें शुरू हो गई है। सुधार शासन स्तर का मामला है। शासन को फिर से अवगत कराया जाएगा।

-प्रेमू साहू, तहसीलदार महासमुंद,

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local