बागबाहरा, महासमुंद। मेडिकल संचालक द्वारा 20 किसानों के खरीदे गए धान का भुगतान 15 दिन के भीतर नहीं करने पर किसानों ने आंदोलन की चेतावनी दी है। इन किसानों का लगभग 50 लाख रुपये भुगतान करना है। गौरतलब है कि कृषि उपज मंडी बागबाहरा में 14 अक्टूबर 2019 को शिकायत दर्ज कराने के बाद मेडिकल संचालक को 31 जनवरी 2020 तक किसानों का भुगतान किया करना था, जो अबतक भुगतान नहीं किया है।

किसानों की बैठक मंडी में होने के उपरांत सभी किसानों का बयान लिया गया था, जिसमें चंडी मेडिकल संचालक राकेश कुमार पुत्र बुधराम चौहान ने लगभग 17 किसानों का धान खरीदा था और उन किसानों का हिसाब कर चेक भी दिया था, जिनका चेक बाउंस होने के बाद मंडी सचिव को सूचना दी गई थी।

मेडिकल संचालक राकेश चौहान के पिता मंडी में आकर किसानों से खरीदे गए धान की कीमतों का भुगतान मुकेश पटेल एवं राजेश पटेल से 31 जनवरी तक कराने की बात कही थी, साथ ही कहा था कि यदि उनकी ओर से भुगतान नहीं किया जाता तो वे भुगतान करेंगो।

लेकिन समय बीत जाने के बाद भी किसानों को धान की रकम नहीं मिली है। किसी ने भी भुगतान नहीं किया है। बुधराम चौहान को लगभग 20 किसानों का लगभग 50 लाख रुपये भुगतान करना है। इस मामले की सूचना किसानों ने प्रबंध संचालक मंडी बोर्ड रायपुर, कलेक्टर महासमुंद, पुलिस अधीक्षक महासमुंद, अनुविभागीय अधिकारी बागबाहरा, तहसीलदार बागबाहरा को दिया है।

किंतु प्रशासन भी किसानों को रकम दिलाने में गंभीरता नहीं दिखा रहा है। किसान नेता जूगनू चंद्राकर ने बता कहा कि पीड़ित किसान इस मसले को लेकर मुख्यमंत्री, कृषि मंत्री एवं राज्यपाल को ज्ञापन देंगे। जूगनू ने कहा कि यदि 15 दिन के अंदर किसानों का भुगतान नहीं किया जाता है तो किसान उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan