महासमुंद(नईदुनिया प्रतिनिधि)।

ठंड के साथ ही सब्जी बाजार में स्थानीय आवक के साथ ही बाहरी आवक बढ़ने का असर सब्जियों की कीमत पर पड़ने लगा है। करीब एक माह पूर्व 50 रुपये प्रति किलो से अधिक दाम बिकने वाली सब्जियों की कीमत आधी हो गई है। बाजार में सब्जियों के दामों में गिरावट का दौर लगातार जारी है। खासकर मौसमी सब्जियों के दाम भी आवक बढ़ने से कम हो गए हैं। दाम आधे होने से लोगों को बड़ी राहत मिली है। वहीं बाजार में सब्जियों की खपत भी बढ़ गई है। थोक व्यापारियों की मानें तो आगामी दिनों में सब्जियों के दाम में और गिरावट की संभावना है। हालांकि लोगों को आलू और प्याज के दाम से कोई खास राहत नहीं मिल पाई है। इन दिनों बाजार में फूलगोभी, मटर, सेम, टमाटर, मेथी की मांग ज्यादा है। बता दें कि इससे पहले सब्जियों की कीमत इतनी अधिक बढ़ गई थी कि लोगों का बजट गड़बड़ा गया था। अब 100 रुपये में एक थैला सब्जी खरीद रहे हैं।

बाजार में रविवार को रहा सब्जियों का दाम

भिंडी 30, लौकी 10, करेला 40, फूलगोभी 25, बैगन 20, टमाटर 25, पत्तागोभी 25, ग्वारफली 40, सेम 40, बरबट्टी 30, नवलगोल 40, अदरक 60, ककड़ी 15, शिमला 40, मूली 10, कद्दू 20 रुपये प्रतिकिलो के भाव से बिक रही है। बाजार में सबसे मंहगी सब्जी मुनगा है जो सौ रुपये प्रतिकिलो के भाव से बिक रहा है। चिल्लर विक्रेता पवन ने बताया कि बाजार में तीन तरह के टमाटर आ रहे हैं, जिसके चलते इसकी कीमत अलग-अलग है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस