महासमुंद(नईदुनिया न्यूज)।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत जिले के एक लाख 28 हजार 719 कृषकों को तीन किस्त में 391 करोड़ 85 लाख रुपये मिल चुका है। यह रकम राज्य शासन ने जमा की है। 2019-20 में जिले के एक लाख 34 हजार 392 कृषकों ने धान बेचने के लिए पंजीयन कराया था, जिसमें से एक लाख 28 हजार 719 किसानों ने 72 लाख 72 हजार 995 क्िवटल धान बेचे। इन्हीं किसानों को किस्तों में राजीव गांधी किसान न्याय योजना का लाभ राज्य सरकार दे रही है। पहली किस्त 22 मई 2020 को प्राप्त हुआ। द्वितीय किस्त 20 अगस्त 2020 को किसानों के खाते में खेती बाड़ी करने के समय प्राप्त हुआ एवं तृतीय किस्त दीपावली के ठीक पहले प्राप्त हुआ है। योजना से राज्य के किसानों के साथ महासमुंद जिले के किसानों के जीवन में खुशहाली का नया दौर शुरू हो गया है। हालांकि इस साल समर्तन मूल्य पर धान की खरीदी एक दिसंबर होगी. फिर भी बोनस का पैसा ऐन समय पर आ जाने से किसानों को त्योहार मनाने के लिए पैसे मिल गए। किसान धान की कटाई-मिंजाई में भी न्याय योजना के तहत मिले रुपये का उपयोग कर रहे हैं।

राज्य शासन की इस योजना से कृषक बहुत खुश हैं। दीपावली के पूर्व किसानों के पास नई फसल आ चुकी थी, किंतु नए धान को अपने घरों में समर्थन मूल्य पर धान बेचने के लिए रखे हैं। योजना के लाभ से जिले के किसानों ने उल्लास से दीपावली का त्योहार मनाया। साथ ही विभिन्न प्रकार के जरूरत के वाहन, गहने, बर्तन, कपड़े इत्यादि जरूरतमंद सामग्री खरीदे एवं शासन का आभार भी प्रकट किया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस