महासमुन्द। एसपी के मार्गदर्शन में जिले में इन दिनों पुलिस आपरेशन मुस्कान चला रही है। इसमें अपहृत नाबालिगों को घर लाया जा रहा है। साथ ही आरोपितों को पकड़कर न्यायालय में पेश कर जेल भेजा जा रहा है। बीते दिनों तेंदुकोना पुलिस ने सात माह व 28 माह पहले दर्ज हुए अपहरण के मामले में कार्रवाई कर दो नाबालिग (अब बालिग) अपहृताओं को यूपी से पकड़कर लाया था। जिनका अपहरण करने वाले आरोपित पकड़े गए और जेल भेजे गए। बताया जाता है कि 28 माह पहले दर्ज हुए मामले जो अपहृता पकड़ी गई उसके दो बच्चे भी हैं।

आपरेशन मुस्कान की कड़ी में इस बार चार जुलाई 2021 को सरायपाली थाना में दर्ज रिपोर्ट पर कार्रवाई की गई। अपृहता एवं संदेही के पता तलाश पर पुलिस टीम गठित कर पूर्व में बैंगलोर, तमिलनाडु रवाना किया गया। जहां पता तलाश किया गया दौरान पता चला कि आरोपित बार बार अपना ठिकाना बदल रहे है। इसी दौरान सूचना पर सोमवार को जिले से लगे जिले रायगढ़ से दोनों अपह्त बालिका को आरोपित दीपक राणा निवासी पल्सपाली थाना सरायपाली व एक अपचारी बालक के कब्जे से बरामद किया गया।

दोनो पर विवेचना में अपहरण, अनाचार, पाक्सो एक्ट का मामला दर्ज है। आरोपितों को गिरफ्तार कर ज्युडिशियल रिमांड पर भेजा गया। कार्यवाही एसपी, एएसपी के निर्देशन में अनुविभागीय पुलिस अधिकारी सराईपाली विकास पाटले थाना प्रभारी सरायपाली आशीष वासनिक व थाना स्टाफ जयन्त बारीक ,सुकलाल भोई प्रकाश साहू ने की।

नाबालिग लापता

कोतवाली थाना क्षेत्र के एक गांव से नाबालिग गायब हो गई। पुलिस ने गुम इंसान कायम कर जांच में लिया है। नाबालिग को किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा अपहरण की संभावना को देखते हुए पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज किया है। नाबालिग के पिता ने बताया कि 14 मई की रात 12.30 बजे से उसकी 15 साल की बेटी लापता है। परिवार के लोग भी अपने स्तर पर बच्ची को पता करने में लगे हुए है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close