महासमुंद। देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि 21 मई के अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 21 मई को राजीव गांधी किसान न्याय योजना एवं राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत हितग्राहियों और किसानों को वर्चुअल माध्यम से राशि का अंतरण किया। कृषि विभाग के अनुसार जिले के एक लाख 39 हजार 682 किसानों को खरीफ वर्ष 2021 में बेचे धान बोनस की पहली किश्त का भुगतान हुआ।

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष महंत राम सुंदरदास के मुख्य आतिथ्य में जिला मुख्यालय स्थित शंकराचार्य भवन, बागबाहरा रोड महासमुंद में राशि अंतरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। साथ ही आतंकवाद विरोधी दिवस के अवसर पर वर्चुअल माध्यम से उपस्थित किसान, हितग्राहियों को आतंकवाद के विरुद्ध संघर्ष करने की शपथ भी दिलाई।

जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित से प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत खरीफ वर्ष 2021 का 17 करोड़ 20 लाख 11 हजार रुपये उनके बैंक खातों में अंतरित की गई।

तीन लाख 55 हजार हितग्राहियों को प्रथम किश्त जारी

इसी तरह राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत जिले के तीन लाख 55 हजार हितग्राहियों को प्रथम किश्त के रूप में दो हजार प्रति परिवार के हिसाब से 71.08 करोड़ रुपये की राशि का अंतरण उनके खातें में किया गया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित छत्तीसगढ़ गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष महंत राम सुंदरदास ने कहा कि मुख्यमंत्री ने जो-जो वादा किया था उसे समय से पूर्व ही पूरा कर लिया जा रहा है। राजीव गांधी के सपनों के अनुरूप आम आदमी को न्याय मिले इस दृष्टि से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जनकल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन कर रहे है।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना एवं गोधन न्याय योजना से आम आदमी से लेकर खास आदमी तक को इन योजनाओं का सीधा लाभ मिल रहा है। व्यक्ति आर्थिक सशक्तिकरण की ओर बढ़ रहा है। गोधन न्याय योजना के तहत गौ माता की सेवा का कार्य कर रही है। उनकी सुरक्षा और सम्मान के लिए राज्य संकल्पित है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे संसदीय सचिव एवं महासमुंद विधायक विनोद चंद्राकर ने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में राज्य में किसान, मजदूर, गरीब खुशहाल है। राज्य शासन द्वारा लगातार सभी वर्गों के हितों को ध्यान में रखकर फैसला लिया जा रहा है और उसे जमीनी स्तर पर भी क्रियान्वयन किया जा रहा है। इस दौरान छत्तीसगढ़ बीज अनुसंधान उपसिमिति के संचालक दाऊलाल चंद्राकर एवं डा रश्मि चंद्राकर ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर कलेक्टर निलेशकुमार क्षीरसागर, पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सहित गणमान्य नागरिक, जनप्रतिनिधि, हितग्राही किसान एवं संबंधित विभाग के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close