महासमुंद। Mahasamund News: छत्‍तीसगढ़ के महासमुंद जिले की पुलिस ने एक साल पहले हुए पुराने हत्या के मामले को सुलझाते हुए पिता के हत्या के आरोप में इकलौते बेटे को गिरफ्तार किया है। बेटे ने महज छह हजार रुपये के लिए पिता को चाकू मारकर हत्या कर दी और मामले को छिपाता रहा।

आरोपित बेटे ने अपने बूढ़ी मां को भी गुमराह कर रखा था। रविवार को एसपी कार्यालय के सभाकक्ष में एसपी धर्मेंद्र सिंह छवई ने मामले का राजफाश किया।

ये है पूरा मामला

बताया गया कि सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के ग्राम कोसरंगी में एक वर्ष पूर्व 12 जनवरी 2022 सड़क किनारे जनक राम साहू (55) बेसुध अवस्था में मिला था। जिसे महासमुंद जिला अस्पताल पहुंचाया गया था। जिला अस्पताल महासमुंद ने जनक राम साहू को मेकाहारा अस्पताल में रेफर कर दिया था, जहां उसकी मौत हो गई।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद यह बात सामने आई कि जनकराम को किसी धारदार हथियार से मारा गया है, जिससे उसकी मौत हो हुई है। सिटी कोतवाली पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया। तब सिटी कोतवाली पुलिस के लाख प्रयास के बाद यह हत्याकांड सुलझ नहीं पाई।

इस तरह का खुला राज

पुलिस अधीक्षक ने मामले का राजफाश करते हुए बताया कि उप पुलिस अधीक्षक मंजूलता बाज और थाना प्रभारी गरिमा दादर ने मामले को ओपन कर इसमें जांच प्रारंभ की। पूर्व प्रभारियों द्वारा किए जांच और बयान की विवेचना करने के बाद आरोपित पुत्र के दिए गए बयान में भिन्नता पाई गई।

वहीं आरोपित का काल लोकेशन निकाला गया, तब यह जानकारी मिली कि घटना दिनांक को पुत्र के मोबाइल का लोकेशन वही घटना स्थल रहा है। जहां घटना को अंजाम दिया गया था।

पुलिस ने संदेह के आधार पर ही आरोपित पुत्र शंकर उर्फ भोला साहू (24) को बुलाकर पूछताछ की। पुलिस के जाल में भोला साहू फंस गया और उसने अपना अपराध स्वीकार कर लिया। हत्या के पीछे पुत्र ने बताया है कि वह अपने खेत का काम करा रहा था और जेसीबी वाले को भुगतान के लिए छह हजार की उसे जरूरत थी।

लाख मिन्नतें करने के बाद भी पिता जनकराम साहू ने पैसे नहीं दिए और पुत्र ने पिता हत्या की योजना बनाई और सुनियोजित तरीके से हत्या कर दी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close