खरियार रोड। वन विभाग ने बड़ी मात्रा में सागौन चिरान जब्त करने के साथ ही तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इसके साथ ही एक कार भी जब्त की गई है। आरोपितों की पहचान सदर ब्लाक अंतर्गत आनेवाले छिंदपाणी गांव निवासी महेंद्र सुनानी(30), क्षीरोद बाग (28) व रेवा साहू(35) के रूप में हुई है। गुरुवार को तीनों को न्यायालय में पेश किया गया।

प्राप्त जानकारी अनुसार खरियार रोड वन विभाग को सूत्रों से सूचना मिली थी कि छिंदपाणी से सागौन की तस्करी होने वाली है। सूचना पाकर खरियार रोड रेंजर निरंजन माझी के नेतृत्व में एक टीम ने गोतमा चौक पर घेराबंदी कर एक कार को रोकने का प्रयास किया किन्तु वन विभाग के कर्मचारियों को देख आरोपित छत्तीसगढ़ की ओर भागने लगे।

छत्तीसगढ़ सीमा पर उन्हें पकड़ा गया और कार से सागौन पट्टे जब्त किए गए। कार में क्षीरोद व महेंद्र सवार थे। वहीं इसके बाद छिंदपाणी गांव में छापेमारी की गई। महेंद्र व रेवा के घर से बड़ी मात्रा में सागौन व साल के पट्टे बरामद किए गए। रेवा को अवैध रूप से लकड़ी रखने के आरोप गिरफ्तार किया गया।

जब्त सागौन पट्टों की कीमत 50 हजार रुपये से अधिक बताई जा रही है। पूरी कार्रवाई में फारेस्टर मनोज माझी, केशव दंडसेना, संजय पटेल, दीप्तिमान पंडा, फारेस्ट गार्ड संजुक्ता बारीक, अजय बारीक आदि शामिल थे।

--

महासमुंद एसडीएम से पट्टा वितरण की मांग

भारतीय जनता पार्टी झुग्गी झोपड़ी प्रकोष्ठ के प्रदेश सदस्य महेंद्र सिका द्वारा महासमुंद एसडीएम से मुलाकात कर पूरे के शहर के झुग्गी झोपड़ी बस्ती में निवासरत लोगों को पट्टा प्रदान करने की मांग की। एसडीएम ने दो महीने के भीतर पट्टा वितरण किए जाने का आश्वासन दिया। इस दौरान निशा नायक, कानु कुमार, बनीता नायक, बेलमती, रायबती, गोदा नायक, सेबती, मुनिया कुमार, गुलाबी कुमार, गोकुल तांडी, सोना बाई , जानकी बाई सहित अनेक लोग उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local