महासमुंद। ग्राम जीवतरा में हुए कत्ल का पुलिस ने पर्दाफाश कर लिया है। जमीन विवाद व नशे में गाली-गलौज से तंग होकर छोटे पुत्र ने ही रिखीराम साहू की हत्या की थी।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ग्रामीण अवध बिहारी साहू (36) ने 24 जून के महासमुंद सिटी कोतवाली आकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसके पिता रिखीराम साहू मुख्य सड़क किनारे खून से लथपथ मृत अवस्था में पड़े हैं। रिखीराम को किसी अज्ञात व्यक्ति ने 23- 24 जून की रात को डंडे से पीट-पीट कर

हत्या कर है।

जिस पर थाना सिटी कोतवाली में हत्या का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला ने उक्त सूचना को गंभीरता से लेते हुए थाना सिटी कोतवाली व साइबर सेल की टीम को आरोपित की पतासाजी कर गिरफ्तार करने निर्देशित किया। थाना सिटी कोतवाली व साइबर सेल की टीम एवं डाग स्क्वाड महासमुंद घटना स्थल पहुंचकर घटना निरीक्षण कर मृतक के बारे में अलग-अलग टीम गठित कर जानकारी एकत्र की। जांच के दौरान पता चला कि मृतक जब भी शराब व नशा करता था तो घर के सदस्य के साथ आए दिन गाली-गलौज करता था। यह भी पता चला कि 23 जून को रात 10-11 बजे मृतक अपने बड़े बेटे डोगेश्वर साहू एवं छोटे लड़के चंदू उर्फ चंदेश्वर साहू के घर सामने देखा गया था। पुलिस की टीम को छोटे लड़के चंदू पर संदेह होने लगा। चंदू को पुलिस अभिरक्षा में लेकर

पूछताछ प्रारंभ की गई।

पहले तो पुलिस की टीम को गोलमोल जवाब देकर टालमटोल कर करने लगा पर कड़ाई से पूछताछ करने पर चंदू अंततः टूट गया और अपराध करना स्वीकार कर लिया। उसने बताया कि वे लोग दो मां के चार भाई हैं तथा पिता रिखीराम साहू द्वारा चारों भाइयों को डेढ़-डेढ़ एकड़ जमीन बटवारा में

दिए थे।

इस वर्ष में 12 काठा में खेती करने के लिए अपने नाम में स्टांप पेपर में लिखा पढ़ी करवाया है और 10 काठा जमीन में जोताई करने के अलावा पिता के द्वारा दो काठा की जमीन जिसमें जोताई व बोआई हो चुकी थी, उसमें पुनः बोआई कर दिया था। 23 जून की शाम को खेत से काम करके घर आया। रात में सात आठ बजे अपने परिवार के साथ खाना खाकर सो गया। इसी रात करीब 11.30 बजे पिता रिखीराम साहू घर के सामने आकर मेरे दो काठा जमीन में धान बोया है, कहकर गाली गलौज करने लगे। सहन नहीं होने पर दरवाजा खोल बाहर निकला तो रिखीराम साहू खड़े थे। जो नशे में थे। जिसे गाली देने से मना किया। उसी समय पत्नि लक्ष्मीबाई दरवाजा के पास आई तो पिता उससे भी गाली गलौज करने लगे। तब पुत्र व पिता रिखीराम साहू दोनो में धक्का मुक्की हुई। समझाने पर भी नहीं मान रहे थे। जिससे तैश में आकर घर अंदर गया और एक लोहे का राड लेकर आया और जान से मारने की नीयत से अपने पिता के सिर के पीछे से राड से मारा। तब उसकी पत्नी हाथ छुड़ा अपने घर के अंदर ले गई। राड के प्रहार से वह जमीन में गिर गया

और मौत हो गई।

कार्रवाई पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला के मार्गदर्शन में एएसपी मेघा टेंभुरकर साहू एवं एसडीओपी कल्पना वर्मा के निर्देशन में थाना कोतवाली प्रभारी सिध्देश्वर प्रताप सिंह, सायबर सेल प्रभारी उप निरीक्षक संजय सिंह राजपूत, उप निरीक्षक योगेश कुमार सोनी, कपिश्वर पुष्पकार सउनि प्रकाश नंद, ललित चंद्रा, प्रवीण शुक्ला, टीकाराम सारथी, प्रआर मिनेश ध्रुव, आर चम्पलेश ठाकुर, शुभम पाण्डेय, रवि यादव, अभिषेक राजपूत, कामता आवड़े, लाला राम कुर्रे एवं थाना सिटी कोतवाली के टीम द्वारा की गई।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close