महासमुंद। महासमुंद जिला अंतर्गत सरायपाली के तीन छात्रों शुभम गुप्ता, दीपांशु पटेल और परमेश्वर नायक ने सह-स्थापित एक छात्र लाभकारी स्टार्ट-अप लांच एक दिसंबर को किया है।

बुक सेलिंग और पुस्तकें खरीदने के लिए शुरुआत में सीटूसी आधारित आनलाइन प्लेटफार्म के रूप में इन्होंने स्टार्ट-अप शुरू किया। अब युवा और इच्छुक के-12 छात्रों की ओर एक और कदम आगे बढ़ाया है। इस स्टार्ट अप से ढाई करोड़ की तकनीकी फंडिंग की स्वीकृति इन्हें मिली है।

'पुस्तकें' की योजना वर्तमान शिक्षा तकनीक को विकसित करने और रुचि-आधारित शिक्षा के विकास पर अधिक ध्यान केंद्रित करने की है। नई पुस्तकें नए विचारों के कार्यान्वयन के साथ अब छात्रों, अभिभावकों और स्कूलों को जोड़ने के लिए एक मंच के रूप में उभर रहा है।

'आज के छात्रों के बीच करियर मार्गदर्शन और सलाह' की आवश्यकता वह केंद्र बिंदु है जिसके चारों ओर यह स्टार्ट-अप घूमता है। यहां के -12 छात्रों को शीर्ष सलाहकारों और रैंकर्स धारकों से परामर्श और परामर्श सत्र प्रदान किए जाएंगे।

युवाओं ने इसे यूट्यूब चैनल पर, वेबसाइट और पुस्तकें के पीछे के विचार को सबसे पहले लाइव लांच किया, जहां बड़ी संख्या में छात्रों ने समर्थन दिखाया।

शुभम गुप्ता ने बताया कि 12 घंटे से भी कम समय में 10 हजार से अधिक छात्रों ने प्री-रजिस्टर किया है, जिसके परिणामस्वरूप अब विभिन्न उपक्रमों द्वारा पुस्तकें को पावती मिल रही है।

टीम में तानीश गुप्ता (एयर 89 आइआइटी दिल्ली) प्रमुख सलाहकारों में से एक हैं। सीओओ शिवेंद्र पांडे हैं, ऋषभ दीमन और शुभम गुप्ता 'पुस्तकें' के पूरे फ्रंट और बैक का विकास और प्रबंधन करते हैं। दीपांशु पटेल और परमेश्वर नायक अनुसंधान और विकास के प्रमुख हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close