महासमुंद । शहर का सबसे बड़ा उद्यान सुरक्षित नहीं है। यहां लगाये गये कीमती सामानो की चोरी हो रही है। अरसे से बंद पड़े टाय ट्रेन पर पालिका ने खर्च कर पटरी से लेकर ट्रेन के इंजन तक बनवाकर शुरू किया है और अब अज्ञात चोर इसका स्लीपर चुरा ले गए हैं।

जिससे अब फिर टाय ट्रेन का परिचालन बन्द होने की स्थिति में है। संजय कानन निरीक्षण पर गए पार्षद राजेन्द्र राजू चन्द्राकर ने बताया कि देखरेख के अभाव में अज्ञात आरोपितों ने टाय ट्रेन की पटरियों को मजबूती देने वाले स्लीपर उखाड़ लिया और इसे गायब कर दिया है। जिससे फिलहाल पटरी पर ट्रेन चलाने की स्थिति में नहीं है।

उन्होंने बताया कि बीते दिनों पीआईसी की बैठक में संजय कानन और सर्व मंगल भवन को निजी हाथों में सौंपने का निर्णय हुआ है। यह काम शीघ्रता से किया जाना चाहिए, अन्यथा निजी हाथों में जाने से पहले ही अन्य कीमती सामान चोरी हो जाने का अंदेशा है।

टाय ट्रेन है संजय कानन की रौनक

संजय कानन उद्यान की रौनक यहां संचालित टाय ट्रेन है। दूर दूर से बच्चे व उनके पालक टाय ट्रेन में सफर करने, मौज मस्ती करने और बच्चों को खुशियां देने पहुंचते हैं। यहां टाय ट्रेन की स्थापना डा. विमल चोपड़ा के अध्यक्षीय कार्यकाल में हुई थी। बाद राशि महिलांग व पवन पटेल कर कार्यकाल में यह बनती बिगड़ती रही। संचालन सही तरह से नहीं हो पाया। मौजूदा अध्यक्ष प्रकाश चंद्राकर ने बंद पड़े ट्रेन को पुनः ठीक करवाया गया और उसी समय कोरोना के तीसरे लहर के चलते इसे बंद करना पड़ा। अब यह ट्रेन पटरी पर दौड़ रही है। परिचालन निजी हाथों में जाने से इसका रखरखाव बेहतर होने की उम्मीद है। साथ ही बच्चों को इसकी अच्छी सवारी मिलती रहेगी।

सांसद नींद से जागिये, जनता परेशानः जफर

सराईपाली (वि)। छत्तीसगढ़ की 36 ट्रेनों को बंद कर केंद्र सरकार, छत्तीसगढ़ सरकार और छत्तीसगढ़ की जनता के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। आज छत्तीसगढ़ के यात्रीगण ट्रेनों के बंद होने से परेशान हो रहे हैं। उक्त बातें महासमुंद लोकसभा कांग्रेस आइटी सेल के अध्यक्ष फर उल्ला ने कही। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में भाजपा के नौ सांसदों को जनता ने अपना आशीर्वाद दिया, लेकिन हर मौके पर भाजपा सांसदों ने छत्तीसगढ़ की जनता के विश्वास के साथ अन्याय किया है। नागरिकों की परेशानी को देखते हुए भी कोई पहल न करना सांसद की निष्क्रियता को दर्शाता है। किसानों की धान की समर्थन मूल्य की बात हो, या युवाओ के रोजगार की बात, चाहे पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमत या बढ़ती महंगाई की बात हो हर मौके पर महासमुन्द सांसद चुप्पी साधे रहे है। आज छत्तीसगढ़ की 36 ट्रेनों के बन्द होने से महासमुन्द लोकसभा के यात्रियों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

फर ने कहा कि छत्तीसगढ़ में इतने बड़े पैमाने में ट्रेनों का बन्द होना उसपर महासमुन्द सांसद चुन्नाीलाल साहू की कोई प्रतिक्रिया न आना सांसद की उदासीनता को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि सांसद नींद से जागें और चुप्पी तोड़कर ट्रेनों के परिचालन शुरू कराने में अपनी भूमिका अदा करें।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close