मुंगेली। कलेक्टर अजीत वसंत ने जिला कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभा कक्ष में साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक ली। इस बैठक में लंबित प्रकरणों के संबंध में अधिकारियों से जानकारी प्राप्त की और निराकरण के संबंध में संबंधितों को आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने इस संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

जिले के विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा के बारे में जानकारी प्राप्त की। बैगा जनजाति के किसानों के पास किसान क्रेडिट कार्ड केसीसी नहीं होने के कारण उन्हे बैंकों से ऋण प्राप्त नहीं हो पाता। इसके फलस्वरूप उनका समन्वित विकास नहीं हो पाया है। इसे देखते हुए प्रत्येक बैगा किसानों का चिन्हाकन करने और पात्रता रखने वाले प्रत्येक बैगा किसानों को किसान क्रेडिट जारी करने के संबंध में आवश्यक कार्रवाई करने के लिएकृषि विभाग के उपसंचालक को निर्देश दिए।

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए इस पर नियंत्रण के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। मास्क का उपयोग और दो गज की दूरी का पालन आदि के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए। दस जनवरी से जिले में कोविड-19 के लिए एहतियाती बूस्टर डोज शुरू हो गया है। इसमें ऐसे व्यक्ति जिन्हे कोविड-19 का दूसरा टीका लगवाए नौ महीने या 39 सप्ताह हो चुके हैं । ऐेसे व्यक्ति को बूस्टर डोज टीका लगाया जा रहा है।

इस संबंध में संबंधितों को आवश्यक निर्देश दिए। बैठक में कलेक्टर ने कोरोना वायरस के नवीन वेरियंट ओमिक्रोन को दृष्टिगत रखते हुए इसके नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए की गई व्यवस्थाओं के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की और अस्पतालों में आक्सीजन की व्यवस्था, शासकीय अस्पतालों में बेड और दवा की उपलब्धता आदि के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए।

कोेविड-19 के संबंध में टूनॉट, एनटीजन और आरटीपीसीआर टेस्ट की प्रगति के संबंध में जानकारी प्राप्त की और उन्होने टूनॉट, एनटीजन और आरटीपीसीआर टेस्ट को नियमित रूप से जारी करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने होमआइसोलेशन रहने वाले व्यक्तियों के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की और ऐसे व्यक्तियों को नियमित रूप से निगरानी में रखने के निर्देश दिए।

धान खरीदी कार्यो की समीक्षा की और उन्होेने धान उपार्जन केंद्रों में भंडारित धान की उठाव, ड्रेनेज, स्टेकिंग आदि के संबंध में आवश्यक निर्देश दिये। ईट भट्टों में काम करने वाले श्रमिकों और उनके बच्चों के लिए स्थापित झूला घर और बच्चों को दी जाने वाली पौष्टिक आहार के बारे में जानकारी प्राप्त की और आवश्यक निर्देश दिए।

राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना में पंजीकृत भूमिहीन कृषि मजदूर और पौनी प्रसारी व्यवस्था से जुड़े लोगों, भू अर्जन, कोविड अनुग्रह सहायता राशि पशु पालको एवं मस्त्य पालकों के लिए बनाये जा रहे किसान क्रेडिट कार्ड, जाति प्रमाण पत्र, लोक सेवा गारंटी अधिनियम सहित अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की और संबंधितों को आवश्यक निर्देश दिए। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्य पालन अधिकारी रोहित व्यास, संयुक्त कलेक्टर नम्रता आनंद डोगरें, उप जिला निर्वाचन अधिकारी नवीन भगत सभी अनुभाग के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व और विभिन्न् विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local