मुंगेली। नईदुनिया न्यूज

गवर्नमेंट एम्प्लॉइज एसोसिएसन छत्तीसगढ़ के प्रांताध्यक्ष कृष्ण कुमार नवरंग ने सरकार के एकल पदों पर पदोन्नति के संबंध में 17 सितंबर को जारी आदेश को अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग के प्रतिनिधित्व पर सरकार द्वारा हमला बताया। नवरंग ने बताया कि विभिन्न समहित कर्मचारी संगठनों एवं सामाजिक संगठनों के साथ मिलकर सरकार के इस गलत फैसले के विरुद्घ संवैधानिक आंदोलन करेंगे। छत्तीसगढ़ सरकार के अनुसूचित जाति -जनजाति के सेवकों को पदोन्नति में आरक्षण नहीं देने की मंशा का विरोध के लिए बैठक व आंदोलन में शामिल होने का अनुरोध किया जा रहा है। इस संबंध में 22 सितंबर को मराठी पुत्रीशाला बिलासपुर में तथा 29 सितंबर को एक बजे कलेक्ट्रेट गार्डन रायपुर में प्रांतीय बैठक होगी जिसमें राज्य स्तरीय आंदोलन की रूपरेखा तैयार की जाएगी। पुरानी व्यवस्था के तहत पदोन्नति में आरक्षण की मांग के लिए राज्य स्तरीय धरना आंदोलन की तिथि तय की जाएगी। एसोसिएसन पदोनति में आरक्षण के बगैर किसी भी पदोन्न्ति का विरोध करेगा । सरकार एकल पदों के बहाने अधिकांश पद को एक-एक कर पदोन्नति देगी और आरक्षित वर्ग की पदोन्नति पर रिक्त पद का अभाव बताकर आरक्षण को समाप्त करना चाहती है, इस अनदेखी का विरोध है।