लोरमी। नगर पंचायत लोरमी में राजस्व एवं नगर पंचायत की संयुक्त टीम ने नगर के मुख्य मार्ग से बेजा कब्जा हटाई। इससे पूर्व समझाइश भी दी गई थी।

नगर के सभी व्यापारियों को पूर्व में सूचित करते हुए नोटिस जारी कर दिया गया है कि दुकान के सामने सड़क पर किये गए अतिक्रमण को स्वेच्छा से हटा नहीं हटाने की स्थिति में प्रशासन द्वारा कार्रवाई की जाएगी। वहीं नोटिस के सात दिन के बाद 10 मई को लोरमी की संयुक्त प्रशासन की टीम ने अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की और लोगांे को समझाइश दी कि सड़क पर पट्टी चूना के निशान के अंदर अपनी दुकानें रखें । चूना पट्टी के बाहर आने वाले सभी समान, टिन शेड को निकाल लें बाद में अतिक्रमण के खिलाफ कड़ी कार्रवाईकी जाएगी क्योंकि सड़क पर अवैध कब्जा के कारण दुर्घटनाओं की आशंका बनी रहती है। वहीं समझाइश देने केबाद भी अतिक्रमण को नही हटाने वाले दुकानदारों के खिलाफ कार्रवाई करने मंगलवार को लोरमी एसडीएम मेनका प्रधान, सीएमओ सवीना अनंत, नायाब तहसीलदार, थाना प्रभारी एनबी सिह, पटवारी सहित राजस्व, नगर पंचायत, पुलिस के स्टाफ अतिक्रमण कार्रवाई करते हुए जो दुकानदार अतिक्रमण नहीं हटाएं उनके खिलाफ देर रात तक लगातार कार्रवाई करते हुए जेसीबी से अतिक्रमण किए हैं उनके खिलाफ कार्रवाई करते हुए तोड़ा गया। जो दुकानदार सड़क में सीमेंट कंक्रीट कराए थे उन्हें भी जेसीबी से उखाड़ा गया। अतिक्रमण कार्रवाई कोटा, पंडरिया मुख्य मार्ग सहित मुंगेली रोड़ में चली। अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गई जो देर रात तक चली।

नदी किनारे बने हैं अवैध मकान : नदी के किनारे अवैध रूप से मकान निर्माण किया गया है और भी मकान बनाया जा रहा है अब देखना होगा कि जिस तरह मुख्य मार्गों में अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

समझाइश के बाद नहीं मानने पर हुई कार्रवाई: एसडीएम

इस संबंध में एसडीएम लोरमी मेनका प्रधान ने कहा सभी दुकानदारों को समझाइश दी गई थी, नोटिस भी जारी किया गया था लेकिन उनके द्वारा ध्यान नहीं दिया गया। इसके चलते अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गई।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close