तखतपुर(नईदुनिया न्यूज)। क्षेत्र में इन दिनों समितियों में धान खरीदी चल रही है। धान बेचने से मिलने वाली लाभ के लिए कोचिया कई तोड़ निकाल रहे हैं । वे फर्जी दस्तावेज भी तैयार कर धान बेच कर शासन की आंखों में धूल झोंक रहे हैं । ऐेसा ही मामला तखतपुर विकासखंड के सेवा सहकारी समिति कुरेली में आने पर जांच की गई। पटवारी ने जांच रिपोर्ट तहसीलदार को सौंपा दिया है आगे की कार्रवाई करेंगे।

कुरेली में किसान सुरेश्ा यादव पिता नंदूराम यादव पिता गरीबा यादव के नाम संयुक्त खाते की भूमि पर धान बेचने के लिए सेवा सहकारी समिति कुरेली में अपने मृत रिश्तेदारों के फर्जी शपथपत्र देकर धान बेच रहा था। इस संबंध में जब समिति ने संज्ञान में लिया तो जानकारी आई कि अर्जुन यादव के द्वारा जिन दो लोगों विदेशी यादव पिता गरीबा यादव तथा अंतु यादव पिता गरीबा यादव के शपथ पत्र 29 अक्टूबर 2022 को समिति में पेश किया ,उक्त दोनों व्यक्ति का निधन क्रमद्गा: 15 वर्ष व 18 वर्ष पूर्व हो चुका है उनके फर्जी हस्ताक्षर कर सुरेश यादव ने जीवित शपथ पत्र कराकर समिति में पेश्ा कर दिया था। इसमें अपने साथ अर्जुन कैवर्त को गवाह बना लिया था। मामले में जानकारी होने के बाद समिति के प्रबंधक एवं अध्यक्ष ने तहसीलदार तखतपुर को लिखित शिकायत करते हुए मामले की जांच कर आरोपित के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की है।

पटवारी ने सौंपा जांच प्रतिवेदन: वहीं मामले में तहसीलदार तखतपुर ने संबंधित क्षेत्र के पटवारी को जांच के लिए लिखा। इस पर पटवारी नीलकमल देवांगन ने मामले की जांच किया। धान खरीदी केंद्र में लोगों के सामने भी सुरेश यादव ने मृत व्यक्तियों का शपथ पत्र पेश्ा करना स्वीकार किया। इसकी जांच रिपोर्ट पटवारी द्वारा तहसीलदार तखतपुर को सौंप दिया गया।

मृत व्यक्ति का भी हो रहा नोटरी: किसानों ने बताया कि विडंबना यह भी है कि मृत व्यक्ति का भी नोटरी होने लगा है। इस मामले में जहां आरोपित ने मृत व्यक्ति का फर्जी शपथ पत्र बनवाकर स्वयं मृत व्यक्तियों का हस्ताक्षर कर दिया। वहीं नोटरीकर्ता अधिकारी ने नोटरी के समय मृत व्यक्तियों की उपस्थिति लेना उचित नहीं समझा और फर्जी शपथ पत्र का नोटरी का मृत व्यक्तियों को जीवत कर दिया। जो कि गंभीर विषय है। इस मामले में जहां फर्जी शपथ पत्र की जांच आवश्यक है तो वहीं नोटरी की जांच की जानी चाहिए कि किस आधार पर शपथ पत्र का नोटरी किया गया है।

मामले में पटवारी नीलकमल देवांगन ने बताया कि शिकायत आने पर मामले में जांच की गई है। जांच रिपोर्ट तहसीलदार तखतपुर को सौंप दिया गया है। आगे की कार्यवाही तहसीलदार के द्वारा किया जाएगा।

मामला समिति के संज्ञान में आने के बाद समिति में प्रस्ताव कर शिकायत तहसीलदार को किया गया है तथा मामले की जांच कर कार्यवाही के लिए मांग की गई है।

- सुरेंद्र तिवारी, अध्यक्ष, सहकारी समिति

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close