तखतपुर(नईदुनिया न्यूज)। नौ दिनों तक जगमागते ज्योति ज्वारा का विसर्जन का सिलसिला शुरू हो गया है। नगर की प्रसिद्ध मंदिर चंडी से ज्योति विसर्जन के लिए निकली।

शाम को निकली ज्योत जंवारा होलिका चौक, गांधी चौक, पुराना बस स्टैंड, संगम नगर होते हुई महामाया पहुंची महामाया के बाद गुप्तापारा काली बाड़ी के बाद पचरी घाट पहुंची। माता की विधि विधान से पूजा अर्चना कर ज्योत जंवारा का विजर्सन किया गया। श्रद्घालुओं ने जगह-जगह माता की आशीर्वाद लेकर विदाई दी गई। नौ दिनों तक मां चंडी की ज्योति कलश को सेवाभक्ति से संजाये भक्त जब माता की विसर्जन करने पचरी घाट से उतरे तब वे अपने को रोक नही पाए और रो पड़े।

चैतन्य झांकी निकाली गई

प्रजापति ब्रह्माकुमारी ईश्र्वरीय विश्वविद्यालय द्वारा चैतन्य झांकी निकाली गई इसमें देवी के रूप में ब्रह्म कुमारी चंचल रूप धरी थी। संस्था प्रभारी ममता बहन, नपा अध्यक्ष पुष्पा श्रीवास, मुन्ना श्रीवास ने आरती की। कार्यक्रम में अमित मंदानी, घनश्याम जांगड़े,़ विमला जांगड़े, देवचरण यादव, राजाराम प्रसाद, राजेश सोनी, मुन्ना साहू, प्रदीप गुप्ता, विनोद अग्रवाल, प्रियंका बहन, निकिता बहन, माधुरी, उत्तम शुक्ला सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित रहे।

पथरिया महामाया मंदिर में किया गया हवन : महामाया मंदिर पथरिया में अष्टमी पर नौ दुर्गा स्वरुप नौ कन्याओं का विधिविधान के साथ पूजा अर्चना कर भोग ग्रहण कराया गया। इसके बाद हवन का कार्यक्रम हुआ। इसमें समिति के अध्यक्ष लल्लूराम जायसवाल, उपाध्यक्ष बेचूराम साहू, गयाराम डडसेना, गेंदराम श्रीवास, सचिव बलराम जानू ,सहसचिव रमेश साहू, बैगा ईतवारी, गोकुल दास, कोषाध्यक्ष बरातीराम साहू, जसपाल सिंह छाबड़ा, शंकर पटेल, सिद्घराम, विनोद पाली, रामलाल, तिजऊ निर्मलकर, महेश जायसवाल एवं अन्य लोग शामिल रहे।

दगौरी के मंदिरों में कन्या भोजः गांव सहित आसपास की देवी मंदिर में अष्टमी पर्व पर नौ कन्याओं को भोजन कराया गया। मावली माता मंदिर,बाजार चौक,बजरंग चौक, गांधी चौक सहित अन्य जगहों पर चना, मीठा प्रसाद का वितरित किया गया। देवी के नौ रूपों की पूजा आराधना के साथ ही आचार्य पं. राजा चौबे ने पूजा संपन्न कराया। इसी कड़ी में गांधी चौक में कन्या भोज किया गया। इस अवसर समिति के सदस्य ग्रामवासी उपस्थित थे।

महामाया मंदिर से विसर्जन के लिए निकली ज्योत जंवारा

सरगांव। नगर पंचायत क्षेत्र में देवी आस्था का पर्व नवरात्रि पर नवमी तिथि गुरूवार को मनाया गया। इस अवसर पर आदि शक्ति महामाया मंदिर से ज्योत जंवारा निकाली गई। अंत में राधा कृष्ण मंदिर तालाब में विसर्जन किया गया। नौ दिनों तक नवरात्रि की पर्व देवी आराधना के साथ पूरे भक्ति भाव वातावरण में मनाया गया। इस अवसर पर देवी मंदिरों व दुर्गोत्सव पंडाल में जस गीत से श्रद्घालु भक्ति गीतों का आनंद लेते रहे। गुरूवार की सुबह अदि शक्ति महामाया मंदिर में आरती के बाद ज्योत जवारा निकली गई जो कि नगर के मुख्य मार्ग से राधाकृष्ण मंदिर तालाब में विसर्जन किया गया। शोभायात्रा में बड़ी संख्या में श्रद्घालु शामिल रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local