खोंगसरा। नईदुनिया न्यूज

लठौरी के ग्रामीणों के आने जाने में हो रही परेशानी को देखते हुए वन विभाग ने निस्तारी के लिए रास्त छोड़ने का निर्णय लिया है।

कोटा ब्लॉक के ग्राम पंचायत मोहली के आश्रित ग्राम लठौरी, बगबुड, बरनाला, छपरापारा के ग्रामीणों को जीवन यापन के लिए खोंगसरा पर निर्भर रहना पड़ता है। जबकि यह ग्राम बैगा बाहुल्य ग्राम है अरपा नदी में बाढ़ होने के वजह से ग्रामीण जंगल के रास्ते आठ किमी की दूरी तय करके खोंगसरा आते है लेकिन वन विभाग के द्वारा प्लांटेशन कर इस रास्ते को तार से घेर दिया गया था जिसका ग्रामीणों के द्वारा विरोध किया गया एवं निस्तारी के लिए रास्ते की मांग की गई। जिसे नईदुनिया ने प्रमुखता से उठाया। इस पर उप वन मंडलाधिकारी कोटा डीएन त्रिपाठी तत्काल मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों के निस्तारी के लिए रास्ता खोलने के निर्देश दिए।

-