मरवाही। नईदुनिया न्यूज

छत्तीसगढ़ प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ तहसील शाखा मरवाही द्वारा प्रांतीय निकाय के आह्वन पर गुरुवार को तहसील कार्यालय मरवाही के सामने नारेबाजी कर तहसीलदार को मुख्यमंत्री एवं मुख्य सचिव के नाम ज्ञापन सौंपकर कर्मचारियों की लंबित मांगों को पूरा करने की बात कही।

संघ के अध्यक्ष कमाल खान ने बताया कि विधानसभा चुनाव के पूर्व कांग्रेस की घोषणा पत्र में किए गए वादे को निभाने में छत्तीसगढ़ की सरकार हिला-हवाला कर रही है। इससे छत्तीसगढ़ प्रदेश के कर्मचारियों में निराशा के साथ- साथ व्यापक असंतोष है। कर्मचारियों की मांगों पर छत्तीसगढ़ की सरकार सकारात्मक निर्णय नहीं लेती तो आंदोलन का विस्तार किया जाएगा। उनकी प्रमुख मांगों में केंद्रीय कर्मचारियों के समान राज्य कर्मचारियों को एक जनवरी 19 से तीन प्रतिशत और एक जुलाई 19 से पांच प्रतिशत लंबित महंगाई भत्ते का भुगतान किया जाए। सातवें वेतनमान के एरियस के बकाया राशि का भुगतान,सभी संवर्गों के कर्मचारियों को चार स्तरीय पदोनत समयमान वेतन दिया जाए। अनियमित कर्मचारियों को नियमित किया जाए। लिपिक वर्गीय कर्मचारियों तथा अन्य सभी संवर्गों के वेतन विसंगति का तत्काल निराकरण किया जाए और राज्य प्राशासनिक सुधार आयोग की रिपोर्ट को सार्वजनिक किया जाए। इस अवसर पर संरक्षक वीके तिवारी, अध्यक्ष कमाल खान, मोहन मिश्रा, रमेश मिश्रा, सीएल शर्मा,राजू गुप्ता,आबी सोनी,ललित गुप्ता,रामेश्वर मिश्रा,केएल गुप्ता,बीपी कश्यप,गोविंद कैवर्त,लोभन कैवर्त,कमलेश राय,हेमवती शर्मा,नलिनी राय,प्रदीप खुशरो,योगेंद्र दीक्षित, ऋषि दीक्षित,एलके तिवारी,रामप्यारे वर्मा और कर्मचारी उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network