मुंगेली। नईदुनिया न्यूज

कलेक्टर डॉ. एसएन भुरे ने कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में एसडीएम, तहसीलदारों एव नायब तहसीलदारों की बैठक लेकर विभागीय कामकाज, राजस्व प्रकरणों के निपटारे की समीक्षा की। उन्होंने राजस्व अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि बकाया भू-राजस्व, बैंक वसूली एवं पंचायतों से शत प्रतिशत बकाया वसूली करें। भू-अर्जन, डायवर्सन के लंबित प्रकरणों का एक माह के भीतर निराकरण करने एवं मुआवजा भुगतान में तेजी लाएं।

उन्होने राजस्व अधिकारियों से कहा कि ई-कोर्ट के तहत प्राप्त समस्त प्रकरणों का ऑनलाइन दर्ज करें। वर्षा से हुई फसल नुकसानी का आंकलन कर भू-राजस्व संहिता की धारा चार -छह के तहत प्रभावित कृषकों को लाभान्वित करें। कलेक्टर डॉ. भुरे ने राजस्व अधिकारियों से कहा कि ई-कोर्ट के अंतर्गत नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन सहित समस्त प्रकरणों का ऑनलाईन हो। उन्होंने कहा कि गिरदावरी कार्य गंभीरता से लें। सामान्य एपीएल राशनकार्ड हेतु आवेदन पत्र जमा करने 23 सितंबर बढ़ा दी गई है।

रेलवे की मांगी रिपोर्ट

कलेक्टर डॉ. भुरे राजस्व अनुविभागीय अधिकारी से कहा कि रेलवे में अर्जित भूमि का स्थल निरीक्षण कर रिपोर्ट दें तथा विसंगतियां दूर करें। उन्होंने समस्त राजस्व अधिकारियों से कहा कि अस्पतालों में पैदा हुए नवजात शिशुओं को जाति प्रमाणपत्र जारी किया जाना तय करें कलेक्टर ने समस्त राजस्व अनुविभागीय अधिकारियों और खाद्य अधिकारी से कहा कि सोसायटियों के बारदाना प्राप्त करें। धान खरीदी के लिए नए कृषकों का पंजीयन जांच करने के बाद ही करें। पंजीयन का कार्य 31 अक्टूबर 2019 तक किया जाना है। बैठक में बताया गया कि सर्वर डाउन होने के कारण लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत प्राप्त आवेदनों में प्रमाण पत्र जारी करने में परेशानी हो रही है। बैठक में अपर कलेक्टर राजेश नशीने, एसडीएम मुंगेली रूचि शर्मा, एसडीएम पथरिया बृजेश सिंह क्षत्रिय, एसडीएम लोरमी सीएस ठाकुर, डिप्टी कलेक्टर आरआर चुरेंद्र, डॉ. आराध्या कमार सहित अन्य राजस्व अधिकारी उपस्थित थे।