मुंगेली। नईदुनिया न्यूज

भारत सरकार के संकार्य प्रभाग सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय के उप महानिदेशक रोशन लाल साहू की अध्यक्षता में कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में सातवीं आर्थिक जनगणना कार्यो की समीक्षा बैठक एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया।

उप महानिदेशक साहू ने बताया कि सातवीं आर्थिक गणना का कार्य छत्तीसगढ़ के शहरी क्षेत्रों में 16 अगस्त से तथा ग्रामीण क्षेत्रों में सात सितंबर 2019 से प्रारंभ हो गया है। यह कार्य छत्तीसगढ़ के सभी 27 जिलों में चल रहा है। उन्होंने बताया कि सांख्यिकी एवं कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय द्वारा डिजीटल इंडिया को प्राथमिकता देते हुए सातवीं आर्थिक गणना का कार्य सीएससी ई गवर्नेंस सर्विसेस इंडिया लिमिटेड से कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि देश में यह प्रथम अवसर है कि आर्थिक गणना का कार्य स्मार्ट फोन के माध्यम से किया जा रहा है। इस कार्य के लिए सीएससी भारत सरकार के इलेक्ट्रानिक्स एवं सूचना प्रोद्योगिकी विभाग के अंतर्गत संचालित संस्था द्वारा की जा रही है। सातवीं आर्थिक गणना के तहत समस्त उद्यमी प्रतिष्ठान एवं प्रत्येक घरों का आर्थिक गणना किया जा रहा है। इसमें संगठित एवं असंगठित प्रतिष्ठान भी शामिल है। इसके आधार पर भारतीय अर्थव्यवस्था में रोजगार सृजन कराने का बड़ा योगदान मिलेगा। साथ ही राज्य एवं जिला स्तर पर सामाजिक एवं आर्थिक विकास के लिए योजना बनाने में बड़ी मदद मिलेगी। उन्होंने बताया कि सर्वेक्षण पश्चात प्राप्त परिणामों के आधार पर राज्य का व्यापार रजिस्टर किया जाएगा। समीक्षा बैठक में बताया गया कि आज तक 350 ग्राम पंचायतों में से 326 ग्राम पंचायतों में जनगणना का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। शेष 24 ग्राम पंचायतों में गणना का कार्य जारी है। शहरी क्षेत्रों में से जिले के कुल आठ अन्वेषक इकाई में से पांच अन्वेषक इकाई का कार्य पूर्ण हो चुका है। शेष तीन इकाई के गणना का कार्य प्रगति पर होने की जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कि जिले में एक लाख 72 हजार घरों का आर्थिक गणना का कार्य संपन्न किया जा चुका है। इसमें आठ हजार 544 व्यवसायी, एक लाख 55 हजार 688 आवासीय एवं आठ हजार 523 अन्य मकान शामिल है। बैठक में उप महानिदेशक साहू ने बचे हुए शेष गणना का कार्य उपस्थित पर्यवेक्षक एवं प्रगणकों से फीडबैक प्राप्त कर उनका भी यथाशीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर जिला योजना एवं सांख्यिकी अधिकारी जेआर मधुकर, जिला सांख्यिकी कार्यालय के सहायक संचालक जेएल परते, सहायक सांख्यिकी अधिकारी मुकूल सोनी, वरिष्ठ सांख्यिकी अधिकारी आरसी श्रीवास्तव, आरएल खंडेल, शिवशंकर कुमार, सीएससी प्रमुख मदन मोहन राउत, सीएससी छत्तीसगढ़ के डिस्ट्रिक्ट मैनेजर सोनम तिवारी, जिला प्रबंधक राहुल सोनी, जिला समन्वयक दीपेश सिंह परिहार, जिला एव उद्योग कार्यालय के केपीएस सिंह राजूपत सहित सीएससी के पर्यवेक्षक और प्रगणक उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket