तखतपुर(नईदुनिया न्यूज)। गुप्त नवरात्र पर्व पर रविवार को सुबह मां महामाया मंदिर तखतपुर में पूजा अर्चना केे साथ सुबह घट स्थापना एवं मनोकामना ज्योति कलश प्रज्वलित की गई। इसके साथ ही गुप्त नवरात्र पर्व की आराधना शुरू हो गई है।

गुप्त नवरात्र में नगर में स्थित मां महामाया मंदिर में रात में मां की दिव्य श्रृंगार की गई। इसके बाद प्रात: काल शुभ मुहूर्त में विधि विधान के साथ पूजा अर्चना की गई इसके बाद घट स्थापना के साथ ज्योति कलश प्रज्वलित किया गया। इस संंबंध में

मंदिर समिति के पदाधिकारियों ने बताया कि गुप्त नवरात्र पर नौ दिनों तक मां महामाया मंदिर में देवी का सिंगार किया जाएगा। मंदिर परिसर में अष्टमी को हवन, पूजन ,कन्या पूजन किया जाएगा। नवमीं को शांति पुष्पांजलि के साथ कलश का विसर्जन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि महामाया मंदिर में गुप्त नवरात्र पर्व पर देवी मां की विशेष आराधना पूजा की जाती है। बड़ी संख्या में श्रद्धालु भक्त पहुंचकर मां की पूजा अर्चना करते हैं।

मंदिर में सुबह ज्योतिकलश प्रज्वलित करने के अवसर पर आचार्य पं. रत्नाकर पांडेय, मंदिर समिति के अध्यक्ष एवं बिलासपुर जिला पंचाययत के सभापति जितेंद्र पांडेय, उपाध्यक्ष जितेंद्र शुक्ला, टेकचंद कारड़ा, राजेंद्र गोस्वामी, मुन्ना गोस्वामी,तिलक ताम्रकार सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित रहे। उल्लेखनीय है कि नगर में स्थित मां महामाया देवी मंदिर में वर्ष के दो नवरात्र में बड़ी संख्या में ज्योतिकलश प्रज्वलित की जाती है। श्रद्धालुओं की आस्था गहरी होने के कारण दूर दूर से श्रद्धालु मंदिर में माता की दर्शन के लिए पहुंचते हैं।

बसंत पंचमी पर मां अंगारमोती मंदिर में किया जाएगा दुग्धाभिषेक

मुंगेली। मां अंगारमोती मंदिर में बंसत पंचमी धूमधाम से मनाने की तैयारी की जा रही है।

मंदिर संयोजक दीपा भवानी ने बताया कि बसंत पंचमी 26 जनवरी की सुबह बच्चों द्वारा कलशयात्रा निकाली जाएगी। कलश यात्रा मंदिर प्रांगण से निकलकर काली माई वार्ड, खर्रीपारा, विनोबा भावे वार्ड से होते हुए वापस मंदिर पहुंचेगी। तदुपरांत मां अंगारमोती परमेश्वरी माता का दुग्धाभिषेक किया जाएगा। इसके बाद दोपहर में मंदिर प्रांगण में ही प्रसाद का वितरण तथा शाम साढ़े पांच बजे मां अंगारमोती परमेश्वरी माता की महाआरती की जाएगी। आयोजन की तैयारी में मंदिर समिति सहित श्रद्धालु जुटे हुए हैं।

रामचरित मानस सम्मेलन 25 से

बेलगहना। बसंत पंचमी पर सिद्ध बाबा आश्रम में रामचरितमानस सम्मेलन का आयोजन किया गया है। सम्मेलन 25 जनवरी से प्रारंभ होगा व इसका समापन 30 जनवरी को पूर्णाहुति यज्ञ, रामचरितमानस समापन, ब्रह्मभोज एवं विशाल भंडारा के साथ होगा। आयोजन का यह 69 वां वर्ष है। यह जानकारी श्री सिद्धबाबा प्रबंध समिति अध्यक्ष राजेश कुमार गुप्ता ने दी।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close