नारायणपुर। राजस्व प्रकरणों के त्वरित निराकरण के लिए ग्राम पंचायतों में विशेष शिविर आयोजन किए जा रहे हैं। कलेक्टर धर्मेश कुमार साहू ने जिले के आमजन से आग्रह किया है कि वे इन शिविरों में उपस्थित होकर अधिक से अधिक राजस्व संबंधी प्रकरणों का निराकरण कराएं। जिले के ग्राम पंचायतों में बीते 11 से 18 अक्तूबर तक ग्राम पंचायतों में विशेष शिविरों का आयोजन किया गया।

इन शिविरों में फौती नामांतरण, खाता विभाजन, बी-1, खसरा नक्शा, पटवारी द्वारा जाति प्रमाण पत्र बनाने के लिए संबंधित आवेदक को पटवारी प्रतिवेदन, वंशावली उपलब्ध कराया। इसके साथ ही भू-अभिलेख का अद्यतीकरण राजस्व अभिलेखों में प्रविष्ट-भू स्वामी एवं अन्य विवरण की जांच कर अभिलेखों में अंकित, प्रविष्ट त्रुटियों को दुरूस्त किया गया। 11 अक्टूबर को नारायणपुर के तहसील कार्यालय में आयोजित शिविर में फौती नामांतरण के 10, खाता विभाजन के छह, आय, जाति, निवास के 14 प्रकरण प्राप्त हुए। इसी प्रकार धौड़ाई में आयोजित शिविर के दौरान फौती नामांतरण के 18, खाता विभाजन के एक, वर्तमान भू अभिलेख नकल के तीन, आय, जाति, निवास, प्रतिवेदन वंशावली के आठ और भू-अभिलेख अद्यतीकरण के एक आवेदन प्राप्त हुए।

इसी प्रकार 12 अक्टूबर को बाकुलवाही में आयोजित शिविर में फौती नामांतरण के 15, वर्तमान भू अभिलेख नकल के तीन, आय, जाति, निवास, प्रतिवेदन वंशावली के 21 और भू अभिलेख अद्यतीकरण के छह प्रकरण प्राप्त हुए, जिनका निराकरण किया गया। इसी प्रकार बेनूर में आयोजित शिविर के दौरान फौती नामांतरा के छह और आय, जाति, निवास, प्रतिवेदन वंशावली के 35 प्ररकण प्राप्त हुए। 13 अक्तूबर को दंडवन में आयोजित शिविर के दौरान फौती नामांतरण के 20 प्रकरण, आय, जाति, निवास, प्रतिवेदन वंशावली के सात और भू अभिलेख अद्यतीकरण के नौ प्रकरण प्राप्त हुए।

वहीं सुलेंगा के शिविर में फौती नामांतरण के दो और खाता विभाजन के दो प्रकरण प्राप्त हुए। इसी तरह 14 अक्तूबर को गढ़बेंगाल में आयोजित शिविर के दौरान फौती नामांतरण के नौ, भू-अभिलेख नकल के 10, आय, जाति, निवास, प्रतिवेदन वंशावली के 20 और भू-अभिलेख अद्यतीकरण के एक प्रकरणों का निराकरण किया गया। इसी प्रकार नयानार में फौती नामांतरण के 10, खाता विभाजन के एक, भू-अभिलेख नकल के दो, आय, जाति, निवास, प्रतिवेदन वंशावली के 25 और भू अभिलेख अद्यतीकरण के एक प्रकरणों का निराकरण किया गया।

18 अक्तूबर को करलखा शिविर के दौरान फौती नामांतरण के चार, आय, जाति, निवास, प्रतिवेदन वंशावली के 8 प्रकरण प्राप्त हुए जिनका निराकरण किया गया। देवगांव में 11 अक्टूबर से 17 अक्टूबर तक आयोजित विशेष शिविर में फौती नामांतरण के 17 और आय, जाति, निवास, प्रतिवेदन वंशावली के 145 और कैफियत के एक आवेदन प्राप्त हुए। विशेष शिविरों के आयोजन की कड़ी में 21 अक्टूबर को खोड़गांव और महिमागवाड़ी के पंचायत भवन, 22 अक्तूबर को रेमावंड और बाकुलवाही पंचायत भवन, 23 अक्तूबर को भरंडा आौर कांगेरा 25 अक्तूबर को कुढ़ारगांव और बेलगांव, 26 अक्तूूबर को खड़कागांव और पल्ली, 27 अक्तूबर को चांदागांव और कुकड़ाझोर, 28 अक्तूबर को केरलापाल और तोयनार, 29 अक्तूूबर को बागबेड़ा और बागडोगरी, 30 अक्तूबर को बिंजली और छोटेडोंगर पंचायत भवन में आयोजित किए जाएंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local