नारायणपुर। उत्तर से आ रही सर्द हवाओं के कारण पूरा प्रदेश दोबारा ठंड की चपेट में आ चुका है। हालांकि नारायणपुर जिले के लिए मौसम विज्ञान विभाग फिलहाल शीतलहर की कोई चेतावनी जारी नहीं किया है। यहां हाड़ कपाने वाली ठंड पड़ रही है।

कृषि विज्ञान केंद्र स्थित मौसम वेधशाला में आज का न्यूनतम तापमान 5.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जबकि 27 जनवरी को 8.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था, अर्थात बीते हुए कल की अपेक्षा आज पारा 2.7 डिग्री सेल्सियस नीचे गिर गया। बढ़ते ठंड को देखते हुए ग्रामीण अलाव का सहारा ले रहे हैं।

मौसम विभाग की सलाह

कृषि विज्ञान केंद्र ने किसानों एवं आम जनों के लिए जारी की सलाह, जहां तक संभव हो बाहर ना निकले अगर आवश्यक कार्य से निकलना हो तो गर्म कपड़े पहनकर ही निकले। ठंडी हवाओं से बचाव के लिए गैरजरूरी यात्राओं को स्थगित करें। अत्यधिक ठंडा पानी पीने के बजाय कुनकुना या गर्म पानी पीयें। पर्याप्त मात्रा में पानी या गर्म पेय का सेवन करें। हाथ पैरों में अधिक महसूस होने पर इसे रगड़ने की बजाय गर्म पानी में रखें अगर शरीर का रंग काला पड़ जाए तो डाक्टर से तुरंत मिले।

स्प्रिंकलर से करें हल्की सिंचाई

किसान भाई फसलों को ठंड से बचाने के लिए शाम के समय स्प्रिंकलर से हल्की सिंचाई करें। मुर्गी पालक किसान मुर्गी घर में अतिरिक्त बल्ब लगाकर शेड को गर्म रखने की व्यवस्था करें।घर एवं पशु गृह में खुली खिड़कियों को बोरे से ढक कर ठंडी हवा को प्रवेश करने से रोके। पशुओं को अत्यधिक ठंडा पानी पीने ना दे एवं रात के समय उन्हें खुले में ना बांधे।किसान भाइयों ने सब्जी के लिए थरहा बोया है तो उसे रात में पालिथीन से ढक दें एवं सुबह खोल दें।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local