रायगढ़( नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना काल के तीसरी लहर में प्रदेश भर में सबसे बड़ी परीक्षा में जिले भर के महिला प्रतिभागियों ने अपना भाग्य आजमाया है। जिसमें पहली पाली में 13168 लोगो ने परीक्षा दिए है। उल्लेखनीय है कि महिला एवं बाल विकास विभाग पर्यवेक्षक पद के लिए सीधी भर्ती और परिसीमित सीधी भर्ती परीक्षा 23 जनवरी को दो पालियों में होगी । कोरोना संक्रमण के बीच यह परीक्षा होगी । 16 जिला मुख्यालयों में परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं । जिले में प्रथम पाली परीक्षा में 51 तथा द्वितीय पाली की परीक्षा हेतु 8 परीक्षा केन्द्र बनाया गया था। पहले चरण में पर्यवेक्षक पर के लिए 14182 परीक्षा शामिल होंगे। वही इसके दूसरी पाली में आठ केन्द्रों 1685 परीक्षार्थी सम्मलित आवेदन दिया था जिसमें से 1013 परीक्षार्थिओं ने परीक्षा नहीं दी। यही हाल दूसरी पाली में भी रहा। परीक्षार्थियों के मुताबिक पर्यवेक्षक परीक्षा के लिए काफी कठिन सवाल पूछे गए थे।

तमाम जतन के बावजूद भी व्यवस्था केंद्र से लेकर सड़क रही बदहाल

कोरोना कहर और परीक्षा को लेकर जारी दिशा निर्देश के तहत प्रशासन व्यवस्था बनाने में जुट गई थी जिसमे छोटे स्कूल या कालेज वाले सेंटरों में 200-250 अभ्यर्थियां बैठक व्यवस्था की गई थी। लेकिन अभियार्थी के साथ उनके परिजनों के आने से शहर में भीड़ भाड़ हो गया आलम यह रहा कि अधिकांश चौक चौराहे में जाम लग गया था। वही केंद्रों में भी फिजीकल डिस्टेंस का पालन नहीं होना बताया जा रहा है। कोतरा में सबसे अधिक अनुपस्थिति जूटमिल में सबसे कम

व्यपाम द्वारा आयोजित सुपरवाइजर पद के लिए बड़ी संख्या में महिला अभ्यर्थियों ने रोजगार पाने आवेदन जमा किए थे। वही परीक्षा के दिन जिलेभर में बनाए गए सभी केंद्रों से 1013 अभ्यार्थी अनुपस्थित पाए गए,सबसे अधिक कोतरा हाई स्कूल में 62 परीक्षार्थी परीक्षा से नदारद है इसके अलावा सबसे कम जूटमिल हाई स्कूल में 09 रहे। इस तरह जिले के सभी केंद्रों में अनुपस्थित दर्ज किया गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local