रायगढ़। जिला भाजपा द्वारा जिले में उपभोक्ताओं के सुरक्षा चार्ज वापस लेने की मांग को लेकर चरणबद्ध तरीके से बिजली बिल सरचार्ज को लेकर धरना प्रदर्शन आंदोलन किया गया। इसका ही नतीजा है कि विद्युत कंपनी द्वारा नवंबर माह में उपभोक्ताओं को सुरक्षा चार्ज के नाम पर डबल अधिक बिल को लेकर राज्य शासन के निर्देश पर बीपीएल परिवारों को सुरक्षा चार्ज में छूट दिया गया है, जिससे बीपीएल उपभोक्ताओं को राहत मिला है।

नवंबर माह से बिजली विभाग द्वारा विद्युत उपभोक्ताओं को सुरक्षा चार्ज के नाम पर बिजली बिल में रकम बढ़ा दी गई है, जिससे विद्युत उपभोक्ता परेशान थे। वहीं सामान्य वर्ग के लोग तो जैसे-तैसे बिल को जमा कर रहे हैं, लेकिन बीपीएल परिवारों के सामने बिल जमा करने को लेकर समस्या खड़ी हो गई थी। जिससे जिले भर में बढ़ा हुआ विद्युत बिल को कम करने की मांग की जा रही थी। वहीं उपभोक्ताओं का कहना था कि एक तरफ राज्य सरकार समय से बिल जमा कराने के लिए आफ बिजली बिल का मरहम लगा रही है तो दूसरी तरफ बिल में सुरक्षा निधि बढ़ाकर अतिरिक्त भार दे दिया है, जिससे उपभोक्ता परेशान है। ऐसे में दो दिन पहले राज्य शासन से मिले निर्देश जारी किया गया है, जिसमें उल्लेख किया गया है, बीपीएल परिवार के उपभोक्ताओं से सुरक्षा चार्ज न लिया जाए इस आदेश के आने के बाद अब बीपीएल परिवारों में राहत है। लेकिन वहीं सामान्य वर्ग के लोगों को किसी भी तरह की छूट नहीं दिया गया है, जिससे सामान्य वर्ग परेशान नजर आ रहा है। वहीं अगले माह और बिल का बोझ बढ न जाए इस भय से लोग समय से बिजली बिल को जमा कर रहे हैं, लेकिन इसको लेकर विभाग व राज्य शासन के प्रति लोगों में नाराजगी है।

9 हजार उपभोक्ताओं को मिला लाभ

विद्युत विभाग के अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार रायगढ़ सर्किल के अंतर्गत 9040 बीपीएल उपभोक्ताओं द्वारा अधिक बिजली खर्च करने के कारण इनका कनेक्शन एपीएल में बदल गया था, जिससे सुरक्षा निधि चार्ज इन पर भी जुड़ गया था। ऐसे में शासन से निर्देश आने के बाद 9040 उपभोक्ताओं का सुरक्षा चार्ज करीब 92 लाख रुपए माफ कर दिया गया है। जिससे गरीब परिवारों को राहत मिली है।

बिल में होगा समायोजन

अधिकारियों का कहना है कि सुरक्षा निधि के तहत बढ़ा हुआ बिल नवंबर माह में जारी किया गया था लेकिन यह आदेश दिसंबर माह में आया है, जिससे ज्यादातर उपभोक्ता बढा हुआ बिल जमा किया है। ऐसे में जो उपभोक्ता बढ़ा बिल जमा किया है उनके राशि को दिसंबर माह के बिल में समायोजन किया जाएगा। ऐसे में बीपीएल से एपीएल में बदले गए कनेक्शनधारियों का करीब 92 लाख रुपए की बचत हुई है।

सामान्य वर्ग को नहीं मिली राहत

विगत माह भर से रायगढ़ सर्किल के सभी बिजली आफिसों के सामने अलग-अलग दिन विपक्षी पार्टी द्वारा बिल को लेकर विरोध-प्रदर्शन किया जा रहा है, लेकिन इसके बाद भी सामान्य वर्ग के उपभोक्ताओं को किसी भी तरह की राहत नहीं मिली है। जिसको लेकर लोगों में आक्रोश देखा जा रहा है। वहीं उपभोक्ताओं का कहना है कि एक तरफ आफ बिजली बिल का मरहम लगाया जा रहा है तो दूसरी तरफ सुरक्षा निधि के नाम से उपभोक्ताओं को प्रताड़ित किया जा रहा है जो गलत है।

वर्जन

शासन से निर्देश मिलने के बाद बीपीएल से एपीएल से बदले गए कनेक्शनधारियों का सुरक्षा चार्ज माफ किया गया है। जिससे रायगढ़ सर्किल के करीब 9040 उपभोक्ताओं को लाभ मिला है। जिन्होंने बिजली बिल पटाया है उनका बिल अगले माह समायोजन किया जाएगा। लोग किसी तरह तनाव लेने की जरूरत नही हैं।

सुनिल कुमार साहू, ईई, सीएसईबी, रायगढ़

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close