खरसिया। नईदुनिया न्यूज

सतपुड़ा की पहाड़ियों के बीच रायगढ़ जिले के तहसील मुख्यालय खरसिया से बारह किलामीटर की दूरी पर बोतल्दा की पहाड़ी पर ग्राम उल्दा में माँ वैष्णो देवी का हूबहू वैसा ही मंदिर है, जैसा जम्मू-कटरा में माता का प्रसिद्घ शक्तिपीठ है।

पहाड़ी में माँ वैष्णो देवी का मंदिर और पास ही बहता प्राकृतिक झरना बरबस ही भक्तों को अपनी ओर खींच ले आता है। नवरात्रों में ग्रामीण अंचल से ही नहीं वरन दूर दूर से लोग इस मनोरम स्थान पर माता के दर्शनों हेतु आते हैं। माना जाता है, जो भक्त अपनी फरियाद लेकर कटरा तक नहीं जा पाते, माता ने उनके लिए छत्तीसगढ; में अपना दरबार बनाया है।

नवरात्रों में यहां 9 दिनों तक मेला सा लगता है, तो अटूट लंगर भी लगा रहता है। जिस में प्रतिदिन हजारों भक्त मां के आशीर्वाद स्वरुप प्रसाद प्राप्त करते हैं। सप्तमी तिथि मंगलवार को 501 कन्याओं द्वारा अष्टमी के हवन हेतु मंगल कलश सजाकर ग्राम उल्दा की पंनखतिया तालाब से जल लाया गया है, जो सहस्त्रधारा हेतु है। दिनोंदिन माता के इस दरबार की प्रसिद्घि बढ;ती चली जा रही है। इस दरबार को और आकर्षक एवं मनोरम बनाने हेतु लगभग 1 किलोमीटर के दायरे में भगवान की सुंदर प्रतिमाएं एवं मंदिरों का निर्माण भी हो चुका है।

न्न

गुफाओं में ऐतिहासिक शैलचित्र भी

वहीं नजदीकी ही ग्राम बरगढ; में अंचल का प्रसिद्घ शिवालय सिद्घेश्वर धाम है, तो सूती-घाट के नजदीक ग्राम पतरापाली-उल्दा की पहाड़ियों में भंवरखोल नामक प्रसिध्द शैलाश्रय है, जिसकी दीवारों पर मत्स्य-कन्या, जंगली भैंसा, भालू, मानव हथेली और भारतीय संस्कृति के शुभंकर स्वास्तिक चिन्ह भी अंकित हैं। वहीं बोतल्दा की गुफा में भी आकर्षक शैलचित्र जो हैं, जो ऐतिहासिक हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020