रायगढ़।

कलेक्टर भीम सिंह ने सोमवार को शहर के शासकीय व पेड क्वारेन्टीन सेंटर्स का निरीक्षण किया। यहां उन्होंने क्वारेन्टीन किये गए लोगों से बात-चीत कर उनका फीडबैक लिया तथा उनको मिल रही सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। कलेक्टर ने सेंटर के नोडल अधिकारियों के साथ विभागीय अधिकारियों को सेंटर्स में लोगों को तमाम जरूरी व्यवस्थाएं मुहैय्या होती रहे यह सुनिश्चित करने तथा इसकी लगातार मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर सबसे पहले जिला पंचायत के पास आदिवासी विकास विभाग के पोस्ट मैट्रिक छात्रावास में बने क्वारेन्टीन सेंटर पहुंचे। यहां उन्होंने रह रहे लोगों से उनको मिल रहे खाने पीने, साफ -सफाई व्यवस्था तथा अन्य सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। सेंटर व शौचालय की साफ -सफाई के बारे में पूछा। लोगों ने खाने की व्यवस्था को अच्छा बताया तथा नियमित साफ -सफाई होने की बात भी कही। कलेक्टर ने सेंटर में पीने के पानी के लिए आरओ लगाने के निर्देश नोडल अधिकारी को दिए। उन्होंने निवासरत लोगों से उनके स्वास्थ्य के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि सेंटर में सभी को आपस में डिस्टेंस बनाकर रहना है। हमेशा मास्क लगाकर रखना है। किसी भी प्रकार के लक्षण आने पर तत्काल नोडल अधिकारी को सूचित करें। जिससे कि तत्काल टेस्टिंग की जा सके।

कलेक्टर इसके बाद कर्मचारी पुत्री छात्रावास में बनाये गए क्वारेन्टीन सेंटर पहुंचे। यहां भी उन्होंने निवासरत लोगों से बात की। उनके भोजन, पानी व सेंटर में मुहैय्या करायी जा रही अन्य व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली। रहने वालों में से कुछ लोगों ने भोजन में चावल के स्थान पर रोटी की मांग की। कलेक्टर श्री सिंह ने लोगों की आवश्यकता के अनुसार उन्हें भोजन प्रदान करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने सभी क्वारेन्टीन सेंटर्स की नियमित साफ -सफाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी लोगों से कोविड अनुकूल व्यवहार का पालन करने की बात कही।

इसके पश्चात कलेक्टर ने शहर के होटल साकेत और होटल तारा का निरीक्षण किया जहां पेड क्वारेन्टीन सेंटर संचालित हैं। यहां उन्होंने प्रबंधकों से उनके यहां रुके हुए लोगों के बारे में जानकारी ली। उनके भोजन आदि के प्रबंध के बारे में भी जाना। कलेक्टर ने सभी संचालकों को क्वारेन्टीन गाइडलाइन का अनिवार्य रूप से पालन करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि रुके हुए लोगों द्वारा मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने जैसे नॉम्र्‌स का अनिवार्य रूप से पालन किया जाये। किसी में यदि लक्षण दिखते हैं तो तत्काल इसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन को दी जाए। इस दौरान नगर निगम आयुक्त आशुतोष पांडेय, एसडीएम युगल किशोर उर्वशा, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास अविनाश श्रीवास, ईई हाउसिंग बोर्ड के शर्मा सहित विभागीय अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags