धरमजयगढ़ । वनमंडल धरामजयगढ़ मंे फिर एक हाथी का शव पाया गया है। धरमजयगढ़ वन मंडल के बागडही जंगल के आरएफ 400 में हाथी का शव ग्रामीणों ने बुधवार की सुबह देखा। धरमजयगढ़ वन मंडल में कुछ ही दिनों लगातार चार हाथियों की मौत से वन विभाग में हड़कम है।

बताया गयाकि बागडही जंगल के पहाड़ के ऊपर हाथी की मौत हुई है, हाथी का शव एक पेड़ के सहारे फंसा हुआ था। शव करीब एक माह पुराना है। यह पूरी तरह सड़ी गली अवस्था में पाया गया है। ऐसे में वन विभाग धरमजयगढ़ के अधिकारी कर्मचारियों की कार्यशैली पर अब सवालिया निशान लगने लगा है। लोगों का कहना है कि आखिर इतने दिनों तक विभाग के अधिकारी-कर्मचारी कहां थे।

लोगों को कहना है कि डीएफओ अभिषेक जोगावत को धरमजयगढ़ आए लगभग छह माह हो गए हैं। इसी दौरान लगातार हाथियांे की मौतें सामने आई है। इससे पहले यदा कदा ही इस तरह के मामले सामने आते थे जोगावत के आने के बाद कर्मचारियों पर कोई दबाव नहीं है। बल्कि पुल-पुलिया,जैसे ठेकेदारी के कार्यों में तेजी देखी गई है। जबकि वो निर्माण कार्य भी भ्रष्टाचार को लेकर सुर्खियों में रहा है।

मीडिया को कवरेज से रोका गया

इससे पूर्व हाटी में दो जंगली हाथियों की सड़ी गली लाश तथा एक हाथी का शव बाकरुमा रेंज के जमाबीरा में और फिर एक नर हाथी कि लाश बागडाही के जंगल में मिली है। हर बार विभाग के डीएफओ अभिषेक जोगावत तथा अन्य अधिकारी कर्मचारियों के द्वारा इस मामले पर पर्दा डालने की कोशिश की गई और मीडिया के लोगो को कवरेज से रोका गया और संबंधित विषय पर जानकारी मांगने से फोन तक रिसीव नहीं किया जाता है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close