रायगढ़।नईदुनिया प्रतिनिधि

पंचायत चुनाव के लिए दोबारा से किए गए परिसीमन के बाद जिले में 12 नई ग्राम पंचायतें बढ़ गई हैं। इससे पहले के परिसीमन में दो नई पंचायतों के निर्माण के अलावा लात पंचायत के विलोपन का प्रस्ताव बना था लेकिन अब दावा आपत्ति के बाद जिले में 13 नई पंचायतों के आ जाने से रायगढ़ जिले में भी कुल 774 ग्राम पंचायत हो गई हैं।

5 अक्टूबर को पंचायतों के परिसीमन पर रोक लगाकर राज्य शासन ने दोबारा से परिसीमन के आदेश दिए थे। गांवों में नई पंचायतों के गठन के लिए ग्रामीणों से राय मशविरा करने एवं पुरानी विसंगतियों को सुधारने के लिए ऐसे आदेश दिए गए थे और इस आदेश के बाद से जिले में नई पंचायतों के लिए 12 गांव तैयार हो गए हैं। दोबारा से किए गए परिसीमन में सारंगढ़ में सर्वाधिक 4 नई पंचायतें बन रही हैं। इसके अलावा लैलूंगा, रायगढ़ एवं पुसौर जनपद में भी 2-2 नई पंचायतें बनाई गई हैं। जबकि बीते महीने परिसीमन में दो नई पंचायतें देने वाले बरमकेला में भी 1 और पंचायत का गठन किया गया है। इन्हें मिलाकर जिले में इस बार कुल 13 पंचायतें बढ़ गई हैं और इनकी संख्या भी 761 से बढ़कर 774 हो गई हैं। मालूम हो कि इससे पहले सितंबर महीने में जो परिसीमन किया गया था। उसमें बरमकेला जनपद पंचायत के ही सहजपाली व विष्णुपाली को पंचायत बनाया गया था। सहजपाली को पंचायत बनाने के लिए रिसोरा एवं कंठीपाली को शामिल कर बैगिनडीह एवं जटियापाली को नवीन पंचायत में शामिल किया गया था। इसी तरह विष्णुपाली पंचायत बनाने के लिए झिकीपाली एवं दुलोपाली का कुछ इलाका इसमें से लेकर दमदमा गांव को इसमें जोड़ा गया है। वहीं धरमजयगढ़ में छाल में एसईसीएल की माइंस के कारण विस्थापित हुए लात से पंचायत का दर्जा छिना गया था।

ऐसे हुआ नई ग्राम पंचायतों का गठन

रायगढ़ में बरलिया पंचायत से आमापाल एवं लामीदरहा को अलग कर लामीदरहा पंचायत बनाई गई है। वहीं भेलवाटिकरा पंचायत का दनौट अब बरलिया में चला गया है। इसी तरह पंडरीपानी पूर्व बेंदराचुआ व बड़े अतरमुड़ा को अलगकर बड़े अतरमुड़ा पंचायत बनाई गई है। पुसौर में लोहाखान एवं बासनपाली को पंचायत बनाया गया है। जबकि सारंगढ़ में दुर्गापाली,सिरोली,कोतमरा एवं भंवरपुर को पंचायत का दर्जा मिला है। इसके अलावा बरमकेला से तोरा,लैलूंगा से बैगिनझरिया व पहाड़लुड़ेग तथा धरमजयगढ़ से जगालमौहा को पंचायत बनाया गया है।

पंचायतों से आई 238 दावा आपत्तियां

ग्राम पंचायतों के परिसीमन के लिए जिले में कुल 238 दावा आपत्तियां मिली हैं। परिसीमन में ग्रामीणों ने अलग अलग तरीकों से अपनी दावा आपत्ति पेश की और अपनी बात रखी। जिपं के अनुसार सबसे ज्यादा 83 दावा आपत्तियां बरमकेला में मिली है। इसी तरह रायगढ़ जनपद पंचायत क्षेत्र से 21,सारंगढ़ से 59,घरघोड़ा से 2, तमनार से 8,लैलूंगा से 12,खरसिया से 11,पुसौर से 35 एवं धरमजयगढ़ से 7 दावा आपत्तियां इस दौरान मिली है।

जिले में दोबारा से किए गए परिसीमन में 12 और नई पंचायतों का गठन किया गया है। अब रायगढ़ जिले में कुल 774 ग्राम पंचायतें हो जाएंगी। अब प्रारंभिक प्रकाशन के बाद 25 अक्टूबर तक जिला एवं जनपद पंचायतों के निर्वाचन क्षेत्र एवं वार्डों के निर्धारण के संबंध में दावा आपत्तियां लेकर निराकरण किया जाएगा।

ऋ चा प्रकाश चौधरी, सीइओ जिपं

Posted By: Nai Dunia News Network