रायगढ़- लैलूंगा(नईदुनिया प्रतिनिधि)। आबकारी विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों पर बेवजह मारपीट कर झूठे केस में फसाने का धमकी देने और बंद घर का ताला तोड़कर मोबाइल नगदी समेत रकम लूटकर ले जाने का आरोप है। पीड़ितों ने इसकी शिकायत विधायक चक्रधर सिंह सिदार से की है।

मामला लैलूंगा के वार्ड सात गांधी नगर मोहल्ले का है। आबकारी विभाग स्थानीय रहवासी के एक घर में कार्यवाही के उद्देश्य से दबिश दी गई। यह कार्यवाही लूटपाट और मारपीट गुंडागर्दी में तब्दील होने का आरोप स्थानीय लोगों ने लगाया है। यहां के रहवासी द्रोपदी व अन्य लोगों ने लिखित आवेदन थाने में दिया है। इसकी प्रति विधायक चक्रधर सिंह सिदार को देते हुए बताया है कि 11 अक्टूबर को सुबह 11-12 के बीच में आबकारी विभाग के आठ पुरुष और दो महिला कर्मचारी उनके घर पहुंचे। जहां उन्होंने अपना परिचय देते हुए जांच शराब की जांच पड़ताल करने लगे। उनके द्वारा कहा गया कि आपके द्वारा शराब बनाया जाता है। जिस उन्होंने बताया कि उनके द्वारा सेवन किया जाता है और वे उसी लिए रखे है। ततपश्चात आबकारी टीम ने वहां से एक लीटर करीब महुआ शराब जब्त की। ग्रामीणों के बताएं अनुसार अधिकारियों ने तत्काल मामले के निपटारा के लिए दबाव बनाया और पैसों की मांग करने लगे। और अभद्रता करने लगे इस बात की भनक अगल बगल के लोग को लगी तो वे लोग भी एकत्रित हो गए। इसके बाद जब हासिल ना होता देख उनके पड़ोस में रहने वाले व्यक्ति के तालाबंद घर मे दबिश दिए। जिसमे ताला लगा हुआ था जिस में एक बुजुर्ग दंपति रहता है जंगल की तरफ गए हुए थे उनके ताला को तोड; कर भी जबरन घर में घुसे और सब सामान अस्त व्यस्त कर घर में रखे लगभग 10 हजार रुपए और कुछ सामान ले जाने की जानकारी दी गई।

फिलहाल इस पूरे घटनाक्रम पर ग्रामीणों ने लिखित लैलूंगा थाने में एक शिकायत दर्ज कराए है। वही इसकी शिकायत विधायक चक्रधर सिंह के पास भी किए है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local