रायगढ़ (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोतरारोड पुलिस ने वाहन चोर और गांजा तस्कर गिरोह के चार सदस्यों को पकड़ा है। आरोपित रायगढ़ और जांजगीर-चांपा में वाहन चोरी की वारदात को अंजाम देते थे फिर चोरी की इन्हीं गाड़ियों से गांजा तस्करी करते थे। चोरियों को अंजाम दे रहा था । चारों गांजा तस्करी के लिए भगवानपुर कोतरारोड़ से कार की चोरी कर ओड़िशा गए थे। गिरफ्तार आरोपितों से दो कार, दो बाइक बरामद किया गया है।

कोतरारोड पुलिस के अनुसार 16 मई को भगवानपुर बस्ती निवासी हदयराम पटेल के मकान में रहने वाले उमाशंकर चौधरी (38) ने थाना कोतरारोड में वाहन चोरी की शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने पुलिस को बताया कि मूजतः वह बड़े गुमडा घरघोड़ा का रहने वाला है। वह भगवानपुर में किराए के मकान में दुकान चलाता है। उसनने चार साल पहले वाहन क्रमांक सीजी 13-7410 को सुनील पटेल निवासी भगवानपुर से खरीदा था। वह 14 मई को रात 10 बजे दुकान के सामने गाड़ी को लाक कर खड़ी किया था । 15 मई की सुबह गाड़ी वहां नहीं थी । आसपास पता करने के बाद भी जानकारी नहीं मिलने पर वाहन चोरी की शिकायत थाने में दर्ज कराई।

थाना प्रभारी कोतरारोड, प्रशिक्षु आईपीएस प्रभात कुमार ने मामले में प्रार्थी और आसपास रहने वालों से पूछताछ की। घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी के फुटेज जांचे। इस दौरान कुछ संदिग्ध लोगों की पहचान हुई। पुलिस उनको तलाशते हुए जांजगीर जिले के ग्राम करिगांव पहुंचे । यहां संदिग्धों के गांजा तस्करी में सक्रिय होने की जानकारी मिली। पुलिस को पतासाजी दौरान एक पेट्रोल पंप के पास की के सीसीटीवी फुटेज में चार संदिग्ध एक साथ दिखे । इस पर चारों को हिरासत में लिया गया। इनमें से एक पूर्व में नकबजनी, बाइक चोरी, आम्स एक्ट का अरोपित था। आरोपित अजय निषाद उर्फ सोनू निवासी चांदमारी थाना कोतवाली से पूछताछ की गई। उसने बताया कि वह गांजा तस्करी के लिए अपने तीन साथियों के साथ कार और बाइक की चोरी करता है। अजय ने अपने साथी शांतिलाल उर्फ जम्मू चन्द्रा, घासीराम चन्द्रा व भागवत चन्द्रा के संबंध में जानकारी दी। पुलिस ने चारों को गिरफ्तार किया गया है, चारों अपना अपराध स्वीकर किया।

आरोपित अजय निषाद उर्फ सोनू निवासी चांदमारी प्रेम प्रताप कालोनी रायगढ़ थाना कोतवाली ने पुलिस को बताया कि तीन साल से ग्राम करिगांव के शांति लाल उर्फ जम्मू लाल चंद्रा, भागवत उर्फ रितेश चंद्रा और घासी राम चंद्रा से उसकी जान पहचान है। तीनों गांजा तस्करी करते हैं । करीब डेढ़ माह पहले चंद्रपुर अग्रसेन लाज के पास रोड किनारे खड़ी एक वैन की चोरी की थी। वैन को सरिया में छिपा कर रखा है। 10 दिन पहले दशरथ पान ठेला कोतरारोड गली से दो बाइक चोरी कर जम्मू लाल चंद्रा के पास बिक्री कर दिया । इसी बीच जम्मू लाल चंद्रा, भागवत चंद्रा और घासी राम चंद्रा से मिला और चारों ने गांजा तस्करी के लिए कार चोरी करने की योजना बनाई। योजना के मुताबिक 14 मई की रात अजय निषाद नगर आजाद चौक से रात दो बजे पैदल भगवानपुर आया और भगवानपुर रोड किनारे किराना दुकान के सामने खड़ी वैन को चोरी कर गोरखा खरसिय होते हुए जम्मू चंद्रा के गांव करिगांव ले आया। यहां पहले से तीनों अजय का इंतजार कर रहे थे । चारों वैन में बैठ कर गांजा लेने ओडिशा रवाना हो गए। इस दौरान एक पंप पर पेट्रोल भरवाया। ओडिशा जाने के दौरान शांति लाल ने वैन का नंबर प्लेट निकालकर फेंक दिया। ओडिशा में गांजा नहीं मिलने पर चारों वापस आ गए । अजय वैन को चंद्रपुर में छिपाकर वापस रायगढ़ आ गया । अजय की निशानदेही पर पुलिस ने चन्द्रपुर व भगवानपुर से वैन दो मोटरसाइकिल जब्त किया है । चंद्रपुर से चोरी गई वैन तथा दशरथ पान ठेला के गली से चोरी दो बाइक के संबंध में थाना कोतरारोड में इस्तगासा कार्यवाही की गई है। भगवानपुर से चोरी वैन के संबंध में दर्ज अपराध में चारों आरोपितों को गिरफ्तार किया गया। अजय को पूर्व में चार बार चालान किया गया है। अन्य आरोपितों के आपराधिक रिकार्ड की जानकारी ली जा रही है । मामले की विवेचना और आरोपितों की गिरफ्तारी में आईपीएस प्रभात कुमार के नेतृव में निरीक्षक चमन सिन्हा, एएसआई डीपी भारद्वाज, प्रधान आरक्षक प्रेम सिदार, आरक्षक अभिषेक द्विवेदी, महेश पंडा, संदीप कौशिक, चंद्रेश पांडे, राजेश खंडे, पुष्पेंद्र जाटवर, धनंजय कश्यप की अहम भूमिका रही। चौकी प्रभारी खरसिया उपनिरीक्षक नंदकिशोर गौतम तथा थाना प्रभारी सरिया उपनिरीक्षक कमल किशोर पटेल का भी विशेष सहयोग रहा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close