रायगढ़ । शालीमार एक्सप्रेस में गोंदिया से जमशेदपुर जा रहे कपड़ा व्यवसायी की पत्नी के बैग को राबर्टसन में आधी रात को अज्ञात व्यक्ति ने छीनकर भाग निकला। उक्त लेडिस बैग में सोने-चांदी के आभूषण और नकदी सहित तकरीबन 13 लाख रुपये का सामान था। उक्त यात्री ने मामले की शिकायत टाटा नगर जीआरपी में दर्ज कराया था, जहां डायरी आने के बाद रायगढ़ जीआरपी जांच में जुटी है।

जानकारी के अनुसार गोंदिया में पुलिस स्टेशन के सामने भाटिया अभिनंदन में रहने वाला संदीप सिंह भाटिया (54) कपड़ा व्यापारी है। संदीप अपनी पत्नी जतिंदर कौर भाटिया के साथ 17 नवंबर को गोंदिया से जमशेदपुर जाने के लिए शालीमार एक्सप्रेस में आ रहा था। इस दौरान रात लगभग ढाई बजे ट्रेन राबर्टसन स्टेशन में खड़ी थी। इस दौरान हरे कलर का स्वेटर पहने एक अज्ञात व्यक्ति एसी बोगी में चढ़ा और अपनी सीट पर सो रही जतिंदर कौर की लेडिस बैग को छीन कर वहां से भाग निकला। इस दौरान महिला द्वारा शोर मचाया गया लेकिन रात होने के कारण आरोपित वहां से भाग निकला। वहीं ट्रेन छूट जाने के कारण व्यापारी ने टाटानगर जाने के बाद घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई। जहां से जीरो में मामला दर्ज कर डायरी को रायगढ़ जीआरपी को भेजा गया है। वहीं रायगढ़ जीआरपी ने उक्त मामले में रिपोर्ट दर्ज कर अज्ञात आरोपित की तलाश शुरू कर दी है।

गहनों से भरा था पर्स

जानकारी के अनुसार व्यापारी का कहना है कि लेडिस बैग में 80 ग्राम सोने का दो सेट, 30 और 75 ग्राम सोने के दो चैन, 2 ब्रेसलेट, 6 अंगूठी, लाकेट, टाप्स, 20 हजार रुपये नकद तथा आधार एवं पैन कार्ड सहित लगभग 13 लाख का कीमती सामान था। वहीं रायगढ़ जीआरपी ने व्यवसायी के बताए अनुसार हरे रंग का स्वेटर पहनकर वारदात को अंजाम देने के बाद फरार आरोपित के खिलाफ धारा 379 के तहत आपराधिक प्रकरण पंजीबद्ध कर मामले की जांच में जुट गई है।

पूर्व में हुई उठाइगिरी के केस फाइलों में कैद

ट्रेन व स्टेशन में पूर्व में भी कई प्रकरण चोरी उठाईगिरी हो चुकी है वारदात के बाद पीड़ितो ने रिपोर्ट तक दर्ज करवा चुके हैं। लेकिन संबंधित पुलिस जांच पड़ताल कर कार्रवाई को आगे तो बढ़ाती है परंतु एक भी बड़े प्रकरण का पर्दाफाश नही हो पाया है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close