रायगढ़ (नईदुनिया प्रतिनिधि)।

जिले के दो दिवसीय दौरे में आए स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा है कि केन्द्र की भाजपा सरकार डीजल-पेट्रोल के मुद्दे पर आम लोगों को गुमराह कर रही है। पेट्रोलियम पदार्थों में तीन तरह के टैक्स एक्साइज ड्यूटी, सेस और वैट लगते हैं। एक्साइज पर 41 फीसदी हिस्सा राज्य सरकारों को मिलता है, केंद्र ने इसे ही कम किया है। केंद्र सरकार राज्यों पर नियमों को को थोप रही है। अब राज्य सरकारों को वैट कम करने कहा जा रहा है। इसे में राज्यों के सामने मुश्किलें खड़ी हो रही है। उन्होंने कहा कि केंद्र की कई योजनाओं को लागू करने में राज्य काफी पीछे है इसकी कई व्यवहारिक व तकनीकी वजहें है।

स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव यहां सर्किट हादस में पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने मोजुदा जीएसटी व्यवस्था पर नाराजगी जताते हुए कहा कि वैट को हटाकर जीएसटी लागू किए जाने से राज्य को ़तीन हजार करोड़ रुपये के राजस्व नुकसान हो रहा है। इसमें बदलाव के लिए जीएसटी काउंसिल की बैठक में आवाज उठाते हैं, किंतु केंद्र सरकार इस पर विचार करने के बजाए एक पक्षीय फैसले लेकर भेदभाव करती है।

तो बदले जाएंगे डीन और एमएस

यहां मेडिकल कालेज अस्पताल भवन बनकर तैयार होने के बाद भी शिफ्ट नहीं होने पर कड़ी नाराजगी जताते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने दो टूक शब्दों में कहा कि 15 दिन के भीतर नए बिल्डिंग में शिफ्ट नहीं हुआ तो डीन व एमएस को बदला जाएगा। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए कोरबा, महासमुंद, कांकेर जिले में मेडिकल कालेज की स्थापना की गई है। सब कुछ सही रहा तो बसना, चाम्पा-जांजगीर , धमतरी और कवर्धा में भी मेडिकल कालेज खोले जाएंगे। स्वास्थ्य मंत्री ने डाक्टरों की निजी पै्रक्ट्रिस के मामले में कहा कि जल्द ही इस मामले में नियम बनाए जाएंगे।

हसदेव जंगल की कटाई से खुश नहीं

एक प्रश्न के जवाब में स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हसदेव अरण्य में पेड़ों की कटाई को लेकर वे संतुष्ट नहीं है, लेकिन कोयले की कमी को दूर करने के लिए इस पर रोक लगाने कोई सरकार आगे नहीं आएगी। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि जितना हो सके पहले बंजर स्थान से कोयला निकालने की सलाह दी गई है।

मेरे भरोसे बीजेपी आगे बढ़े तो निराशा ही लगेगी हाथ

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पार्टी में गुटबाजी है, फिर भी हम एक है, परिवार में यह सब होता रहता है। इस गुटबाजी को लेकर अगर मेरे भरोसे बीजेपी आगे बढ़ रही है तो वे बहुत निराश होंगे। मेरे परिवार की पांच पीढ़ी कांग्रेस के साथ दिल और दिमाग से जुड़ी रही है । हम लोग राज परिवार के सदस्य कहलाते हैं इसी कांग्रेस ने हमारा राजपाट ले लिया, हम भूमि स्वामी थे इसी कांग्रेस ने सीलिंग का कानून लाया, मैं तेंदू पत्ता का व्यवसायी था खरसिया उपचुनाव में अर्जुन सिंह जी ने घोषणा की कि इसका राष्ट्रीकरण हो गया। इतना सब होने के बाद भी हम कांग्रेस में हैं तो आज एक बात के लिए हम कांग्रेस को छोड़ेंगें, ऐसा नहीं हो सकता। ये तो दो दिन का खेला है। वे हाई कमान के दिशा निर्देश पर वे काम कर रहे हैं ।

विधायकों के नदारद रहने पर कहा अपने क्षेत्र में व्यस्त होंगे

दो दिन के दौरे में जिले के विधायकों द्वारा बनाई गई दूरी के मामले में उन्होंने खुलकर कुछ नहीं कहा, सिर्फ यही कहा कि विधायक अपने क्षेत्र में व्यस्त होंगे। वे ऐसी बातों पर ध्यान नहीं देते। छत्तीसगढ़ में आगामी चुनाव को देखते हुए विधायकों की स्थिति को लेकर किए जा रहे सवर्ेे पर कहा कि यह एक स्वाभाविक और निरंतर चलने वाली प्रक्रिया है।

मनरेगा कर्मियों को हड़ताल खत्म करने का निवेदन

मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था और रोजगार के लिए मनरेगा को सबसे उपयुक्त है। जनमानस की समस्याओं को देखते हुए मितानीन संघ हड़ताल खत्म कर काम पर लौट आया है । मनरेगा कर्मियों से भी हड़ताल खत्म करने पहले भी निवेदन किया गया है । एक बार पुनः हड़ताल खत्म करने का निवेदन कर रहा हूं जिससे विकास और अर्थव्यवस्था के काम हो सके।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close