Self reliant india: रायगढ़। देश की पहली और निजी क्षेत्र की एकमात्र रेल निर्माता कंपनी जिंदल स्टील एंड पावर ने रेल इन्फ्रास्ट्रक्चर उत्पादन क्षेत्र में एक बड़ी छलांग लगाई है। कंपनी यहां अपने स्टील प्लांट में देश की पहली रेल पहिया उत्पादन कारखाना लगाएगी। इस महत्वाकांक्षी योजना को अंजाम देने के लिए कंपनी ने जीआईएफएलओ-हंगरी के साथ एक समझौता किया है।

जिंदल स्टील के अधिकारियों के मुताबिक जीआईएफएलओ-हंगरी और जिंदल स्टील के बीच यह तकनीकी समझौता नई दिल्ली में हंगरी दूतावास एवं फिक्की के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित “भारत-हंगरी बिजनेस फोरम” में हुआ। इसके अनुसार प्लांट की शुरुआती उत्पादन क्षमता 25 हजार सेट पहिया प्रतिवर्ष होगी।

जिंदल स्टील भारतीय रेल के लिए विभिन्न श्रेणियों की पटरियां तैयार कर आपूर्ति कर रही है। कंपनी देश की विभिन्न मेट्रो परियोजनाओं के लिए हेड हार्डेंड रेल भी तैयार कर रही है। रेल इन्फ्रास्ट्रक्चर विकास योजनाओं को आगे बढ़ाते हुए जिन्दल स्टील एसिमेट्रिक रेलों के लिए रेल फोर्जिंग यूनिट भी स्थापित कर रही है, जिसका इस्तेमाल रेल ट्रैक्स स्वीचेज, खासकर तेज रफ्तार ट्रेनों के संचालन में किया जाएगा।

जिन्दल स्टील एंड पावर के प्रबंध निदेशक वीआर शर्मा ने कहा कि उनकी कंपनी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू किए गए आत्मनिर्भर भारत अभियान में बढ़कर सहयोग करने के लिए प्रतिबद्ध है। रेल पहिया संयंत्र से भारतीय रेल के आधुनिकीकरण को गति मिलेगी। विश्वस्तरीय गुणवत्ता वाले पहियों की उपलब्धता से हम भारत सरकार के दूरदर्शी “गतिशक्ति अभियान” को साकार करने में एक महत्वपूर्ण साझेदार साबित होंगे।

एचटी हेड हार्डेंड रेल ग्रेड की एकमात्र भारतीय निर्माता

जिन्दल स्टील एंड पावर 1080 एचएच एवं 1175 एचटी हेड हार्डेंड रेल ग्रेड की एकमात्र भारतीय निर्माता है। ये पटरियां 25 टन से अधिक भार वहन की क्षमता रखती हैं और तेज रफ्तार दौड़ने वाली गाड़ियों के लिए उपयुक्त हैं। जेएसपी 60ई1, जेडयू1-60 और 60ई1ए1 मानदंडों के अनुरूप आर260 और 880 ग्रेड की पटरियों का भी निर्माण करता है और आर350 एचटी ग्रेड पटरियों का निर्यातक है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close