रायगढ़(नईदुनिया प्रतिनिधि)। देश विदेश कोरोना प्रभावित क्षेत्रों से आए ग्रामीण व शहरी अन्य की पहचान कर स्वास्थ्य विभाग ने अब तक जिले 695 लोगो की स्क्रीनिंग कर उन्हें केवल घरों में रहने की सलाह देते हुए नजरबंद रहने को कहा गया है या दूसरे शब्दो मे उक्त लोगो को स्वास्थ्य विभाग के निगरानी में होम आइसोलेशन में रखा गया है। इस आंकड़े में मंगलवार को केजीएच में 35 एमसीएच अस्पताल में 6 लोग इस जांच दायरे में आये है। बुधवार को केजीएच में 29 लोग और 18 व्यक्तियों का एमसीएच में स्वास्थ्य जांच किया गया है।

वही जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा ग्रामीण अंचलो की रिकार्ड दुरुस्त नही करने पर ब्लाक स्तर में स्क्रीनिंग की जानकारी नही मिल पा रही है। वही जैसे-जैसे प्रदेश में कोरोना वायरस से संबंधित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है । इससे लोगों में खलबली मची हुई है। लोग डर के आगोश में है । स्वास्थ्य व वायरस से बचाव के लिए चिंतित नजर आ रहे हैं । वही इसका असर सड़कों में भी देखने को मिल रहा है जिससे सड़क लाक डाउन के कारण वीरान नजर आने लगी हैं।

डाक्टरो की टीम मेकाहारा में मौजूद

कोरोना वायरस को फैलने अस्पताल आये मरीजो से फैलने से रोकने के लिये तरह-तरह के उपाय किया जा रहा है। मेकाहारा में डाक्टरो की टीम मरीजों की

सेवा के लिए तत्पर है। आलम यह है कि कलयुग के भगवान कहे जाने वाले डाक्टर मेडिकल कालेज में आने वाले मरीजो की जांच व उनके हाथों को सैनिटाइजर किया जा रहा है। ततपश्चात उनका उपचार किया जा रहा है। देखा जाए तो यह सुरक्षा के दृष्टिकोण से काफी अहम है वहीं मरीजों को भी इस ओर ध्यान देना पड़ेगा तब कहीं जाकर रोकने में सफलता हासिल हो सकती है।

स्क्रीनिंग मरीजो से अनजान नोडल अधिकारी

शासन के दिशा निर्देश पर जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना वायरस से जुड़े केस रिजल्ट, मरीजो की संख्या, उपचार के लिए समुचित व्यवस्था की जरूरत को देखते हुए नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। जब उनसे कोरोना वायरस से सम्बंधित जानकारी लेने का प्रयास किया गया तो उन्होंने पल्ला झाड़ते हुए आलाधिकारियों से चर्चा करने की बात कहने लगे । वही नोडल अधिकारी को स्क्रीनिंग किये गए लोगो की संख्या के बारे में भी कोई जानकारी नही होना बताये। जब जिला स्वास्थ्य अधिकारी से इस पर जानकारी लेने का प्रयास किया गया तो उन्होंने फोन उठाना तक मुनासिब नही समझे । इस पर कुछ छोटे कर्मचारियों ने बताया सीएचएमओ वीसी मीटिंग में है। इस तरह की व्यवस्था से जिला स्वास्थ्य विभाग की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लग रहा है।

कोरोना वायरस से सम्बंधित जानकारी मेरे पास नही है । इसके लिए आप सीएचएमओ से संपर्क कर लीजिए।

टीके टोण्डर, नोडल अधिकारी कोरोना वायरस

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket