रायगढ़ (निप्र)। विकासखंड रायगढ़ अंतर्गत ग्राम-लोईंग में जन समस्या निवारण शिविर में जनपद पंचायत अध्यक्ष रामकुमार भगत ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा अनेक जन कल्याणकारी योजनाओं संचालित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शासन की यह मंशा है कि ग्रामीण क्षेत्र के अंतिम छोर में बसे लोगों को शासन की योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक मिले।

साथ ही समाज कल्याण विभाग द्वारा चलाए जा रहे योजना अंतर्गत सामाजिक सुरक्षा पेंशन, वृद्धा पेंशन, सुखद सहारा एवं मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना आदि के बारे में ग्रामीणों को बताया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान पर राष्ट्रीय स्वच्छता अभियान की शुरुआत 25 सितम्बर से कर दी गई है।

इसके तहत गांवों और शहरों में हर घर में व्यक्तिगत स्वच्छ शौचालय बनाकर उनके नियमित उपयोग की आदत डालना बहुत बड़ा काम है। इसके साथ ही हमारे आसपास का वातावरण तभी स्वच्छ हो सकेगा, जब हम कूड़ा करकट और गंदे पानी की निकासी की सही व्यवस्था बनायेंगे। हर आयु वर्ग के लोगों, विशेषकर बच्चों और युवाओं को इस अभियान से जुड़ना होगा, ताकि नई पीढ़ी की बुनियादी में स्वच्छता के संस्कार रच-बस जाएं। हम सबको 2019 तक पूरे देश को दुनिया का सबसे स्वच्छ देश बनाने में अपनी सक्रिय भागीदारी निभानी है।

जिला स्तरीय जन समस्या निवारण शिविर में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी राजेश सिंह राणा की मौजूदगी में ग्रामीणों से प्राप्त 70 आवेदनों में मौके पर 46 आवेदनों का निराकरण किया गया। शेष आवेदनों को समय-सीमा के भीतर निराकृत करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।

राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना के अंतर्गत जनपद पंचायत रायगढ़ की ओर से 11 हितग्राहियों को 20-20 हजार रुपए की सहायता राशि का चेक प्रदान किया गया। समाज कल्याण विभाग द्वारा ग्राम-मौहापाली के विकलांग सुरेश भोय को 300 रुपए एवं 3 वृद्धा धोबनी, चौकमती एवं लक्ष्मी प्रसाद को 300-300 रुपए की वृद्धा पेंशन दिया गया।

शिविर में उद्यान विभाग द्वारा ग्रामीणों को केला, आम, काजू, आवला, कटहल एवं इमली के लगभग 500 नग फलदार पौधा निःशुल्क वितरण किया गया। शिविर में कला जत्था दल द्वारा स्वच्छ भारत अभियान एवं नशा मुक्ति के बारे में गीत, नाटक के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया गया। इस अवसर पर वनमंडलाधिकारी रायगढ़ श्री पाण्डेय, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व केएस मण्डावी, जनपद सीईओ ललित शाह एवं जिला स्तरीय अधिकारी तथा बड़ी संख्या में ग्रामीण जन उपस्थित थे।

Posted By: