कोतबा नईदुनिया न्यूज।

कोतबा के सरकारी शराब दुकान में लूट के असफल प्रयास के मामले में गिरफ्तार किए गए तीनों आरोपितों को बुधवार को पुलिस ने न्यायालय में पेश किया। न्यायालय के निर्देश पर पुलिस ने तीनों आरोपितों को जेल दाखिल कर दिया है। न्यायालय में पेश करने से पहले आरोपितों का एंटीजन रैपिड टेस्ट कीट की मदद से कोरोना परीक्षण किया गया।

कोतबा के बागबहार रोड में स्थित सरकारी शराब दुकान में छह अज्ञात हथियारबंद आरोपित घुस आए थे। इन आरोपितों ने दुकान में मौजूद व्यवस्थापक सचिदानंद भगत को बंदूक की नोंक पर धमकाते हुए,शराब बिक्री की रकम की मांग करने लगे। लूटेरों ने मैनेजर से आलमारी की चाबी लेकर तलाशी ली। लेकिन बिक्री की राशि कोतबा चौकी में जमा कर दिए जाने से,लूटेरों के मंसूबों पर पानी फिर गया। बौखलाए आरोपितों ने मैनेजर सहित दुकान में मौजूद कर्मचारियों की बेदम पिटाई करते हुए,दो मोबाइल और 2 हजार रूपए नगद लूट कर फरार हो गए थे। सोमवार को फरसाबहार थाना क्षेत्र के ग्राम डुमरिया के जंगल ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने तीन बाइक,एक बोरा और एक कारतूस जमीन बरामद किया था। सीसीटीवी फुटेज और बरामद किए गए बाइक के आधार पर मामले की जांच को आगे बढ;ाते हुए,कोतबा पुलिस और जिला पुलिस की संयुक्त टीम ने 24 घंटे के अंदर दो आरोपी और एक संदेही सहित तीन लोगों को गिरफ्तार करने में बड़ी सफलता हासिल की है।पकड़े गए दो आरोपित झारखंड के गिरीडीह आसपास के बताये जा रहे है। जबकि एक संदेही को इन्हें शरण देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। बताया जा रहा हैं कि पुलिस की सक्रियता के कारण आरोपी कोतबा से महज 9 किलोमीटर दूर फरसाबहार थाना क्षेत्र के डुमरिया जंगल में मोटरसायकिल और कुछ हथियार छोड़कर भाग निकले थे।उसके बाद घने जंगल और रात के अंधेरे में भागने में सफल नहीं हुए। सूत्रों के मुताबिक एक आरोपी फरसाबहार थाना क्षेत्र के कुम्हारबहार (लकराघरा) में गिरफ्तार किया गया है।जबकि दूसरा आरोपी कोतबा में पकड़ा गया है।कोतबा में पकड़ाये आरोपी लोगों को यह कहकर गुमराह कर रहा था कि वह उड़ीसा से काम करके लौट रहा है।और उनके कंपनी वाले उन्हें खोज रहे है।लेकिन शराब दुकान के सीसीटीवी फुटेज ने उसकी पोल खोल दी। वहीं इन दोनों आरोपितों की शिनाख्त पुलिस टीम ने सुरेश केरकेट्टा 25 वर्ष,निवासी रायडह,जिला गुमला,झारखण्ड और बनारसी उर्फ मन्या 20 वर्ष,निवासी भरनो,जिला गुमला झारखण्ड के रूप में की गई है। वहीं मामले के तीसरे आरोपित देवसिंह यादव को पुलिस ने आरोपितों को पनाह देने के आरोप में गिरफ्तार किया है। एसपी बालाजी राव ने बताया कि गिरफ्तार आरोपितों के खिलाफ धारा 294,323,506,395,398 और आम्र्‌स एक्ट की धारा 25,27 के तहत अपराध दर्ज किया है। उन्होनें इस चुनौती पूर्ण मामले को सुलझाने के लिए एसडीओपी पत्थलगांव योगेश देवांगन,बागबहार के थाना प्रभारी डीपी सिंह, कोतबा के चौकी प्रभारी केपी सिंह,तपकरा के थाना प्रभारी बीएन शर्मा सहित टीम शामिल पुलिस के जवानों को बधाई दी है। उन्होनें बताया कि मामले में फरार चल रहे अन्य आरोपितों की तलाश की जा रही है। जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020