रायगढ़ -खरसिया (नईदुनिया प्रतिनिधि) । खरसिया के टेमटेमा स्थित स्काई एलायज पावर प्लांट में नांदेड़ में लाइए साइलेंट टाइम के गिरने और उसकी चपेट में आने से तीन की मौत और दो अन्य गंभीर रूप से घायल होने के मामले के इंडस्ट्रियल हेल्थ एंड सेफ्टी डिपार्टमेंट जांच पूरी कर ली है। हादसे के पीछे कार्य क्षेत्र में असुरक्षित कार्य पद्घति व मानक संचालन प्रक्रिया का पालन नहीं करना पाया गया है। ऐसे में विभाग ने प्लांट के मैनेजर संजय अग्रवाल को कारखाना एक्ट के तहत नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

स्काई एलायज पावर प्लांट में हुए हादसे में कंपनी प्रबंधन की गंभीर लापरवाही सामने आई है। रविवार को सुबह यहां नवनिर्मित फ्लाई ऐश साइलो टैंक के धराशाई होने की घटना हुई थी।

इससे नीचे दबकर तीन मजदूरों की मौत हो गई । दो गंभीर रूप से घायल हो गए । उनका उपचार एक निजी अस्पताल में अब तक जारी है। बधाा प्रसाद निवासी जिला छपरा बिहार का जिंदल फोर्टिस अस्पताल में इलाज जारी है। टीम ने घटना के समय मौके पर मौजूद मजदूरों के साथ ही कर्मचारियों के बयान दर्ज किए हैं।और हादसाग्रस्त साइलो टैंक का निरीक्षण किया है। हादसाग्रस्त साइलो टैंक की स्थापना तीन महीने पहले ही हुई थी और हादसे के 20 दिन पूर्व ही टेस्टिंग पूरी करने के बाद उसे चालू किया गया था। ऐसे में स्ट्रक्चर के निर्माण से लेकर टेस्टिंग की प्रक्रिया पर भी सवालिया निशान लग रहे हैं। ऐसे में विभागीय टीम ने तकनीकी दृष्टिकोण से भी हादसे का अध्ययन किया और तीन दिनों की जांच-पड़ताल के बाद आज अपनी प्रक्रिया पूरी कर ली है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local