रायगढ़ (नईदुनिया प्रतिनिधि)। सोमवार को नईदुनिया के सर्व धर्म प्रार्थना सभा के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई थी, रात से हो रही रिमझिम बारिश रुकने का नाम नहीं ले रही थी। ऐसे में सभा के आधा घंटा पहले बारिश ऐसे ठहर गई, मानो हम से पहले बादल और प्रकृति ने कोरोना संक्रमण से दिवंगत लोगों को श्रद्धांजलि दी हो।

सुबह ठीक 11 बजते ही सबकुछ थम सा गया और हजारों लोगों ने मौन प्रार्थना कर महामारी में दिवंगत आत्मा की परमशांति की प्रार्थना की। संक्रमित जनों के जल्द स्वास्थ्य लाभ और काल कवलित लोगों के स्वजनों के लिए ईश्वर से संबल प्रदान करने की कामना के साथ संवेदना का लहर उमड़ पड़ा। प्रार्थना सभा में संख्या में विभिन्न समुदाय और पंथ के धर्म गुरु, राजनीतिक दलों गके प्रतिनिधि और जन प्रतिनिधि, प्रशासन और पुलिस के अधिकारी-कर्मचारी, व्यापारी-कारोबारी, शिक्षक-विद्यार्थी व आम लोग शामिल हुए। हर वक्त मोटर-गाड़ियों के शोर से व्यस्त रहने वाले मुख्य मार्ग में दो मिनट के लिए शांति का वातावरण निर्मित रहा। कार्यक्रम को धर्म गुरु, जनप्रतिनिधि, प्रतिष्ठित जनों से साथ विचारकों ने संबोधित किया और दिवंगतों के आत्मा की शांति की और स्वजनों के साथ संक्रमितों को साहस-संबल देने ईश्वर से प्रार्थना की।

कोरोना माहमारी से जिन्होंने अपना स्वजनों को खोया है उनकी मनोदशा को व्यक्त कर पाना काफी कठिन है। कोरोना से स्वास्थ्य कर्मी, स्वच्छता कर्मी, पुलिसकर्मी ही नहीं अनेक अन्य लोगों ने भी अपने प्राण की आहूति दी है, यह दुखद है। इस दुख की घड़ी में नईदुनिया अखबार द्वारा दिवंगतों की आत्मा की शांति के लिए सर्व धर्म प्रार्थना कराई गई। इससे सभी को संबल मिलेगा।

-जानकी काटजू, नगर निगम महापौर।

कोरोना महामारी ने हर किसी को थका दिया, रूला दिया, भयभीत कर दिया। मानवता पर गहरा संकट आ गया। कई लोगों का परिवार उजड़ गया। विपरीत परिस्थिति में लोगों की मदद के लिए मानवता के हाथ आगे बढ़े। अखबार ने भी अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभाई। खासकर नईदुनिया ने सकारात्मकता बनाए रखा। इस बीच नईदुनिया, जागरण परिवार ने सर्व धर्म प्रार्थना आयोजित कर प्रेरणादायी कार्य किया है। निश्चित रूप से इससे सभी को संबल मिलेगा। -संतोष सिंह, एसपी रायगढ़।

वैश्विक महामारी कोरोना में बीते डेढ़ वर्षों में न जाने कितने लोगों की जानें असमय चली गई। ऐसे परिवार भी बिखर गए जिनके घर कमाने वाला कोई एक सदस्य ही था। दुख की इस घड़ी में व्यक्ति प्रार्थना ही करता है ताकि उसे संबल मिले। नईदुनिया ने आज वही किया है। इस आयोजन से उन्हें मजबूती मिलेगी।

-पूनम सोंलकी नेता प्रतिपक्ष नगर निगम।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close