रायगढ़, नईदुनिया न्यूज। दो दिन पहले मानसरोवर तालाब के पास ठेकेदार संदीप सिंह की सिरकट लाश मिलने के मामले का खुलासा पुलिस ने किया है। ठेकेदार द्वारा लगातार लैंगिक संबंध स्थापित किए जाने से तंग आकर मजदूर ने जघन्य वारदात को अंजाम दिया था। मजदूर ने बेरहमी पूर्वक ठेकेदार के शरीर को तीन भागों विभक्त कर दिया था। हत्याकांड का कंट्रोल रूम में खुलासा करते हुए पुलिस कप्तान ने बताया कि संदीप सिंह का पतरापाली किरोडीमलनगर में रहने वाले मजदूर शंकर कुमार पासवान (28) के साथ मिलना जुलना था । वह मूलतः झारखंड का रहने वाला है। पुलिस को जानकारी मिली की घटना वाली रात पतरापाली में शंकर को घूमते देखा गया था ।

संदेह के आधार पर पुलिस ने शंकर को हिरासत में लिया और पूछताछ की। इस पर उसने बताया कि संदीप सिंह काफी दिनों से शंकर से लैंगिक संबंध बनाता था। संदीप सिंह के साथ काम करने के कारण वह उससे नाजायज संबंध बनाता था। इसकी जानकारी होने पर उसके सहकर्मी मजाक उड़ाने लगे थे। इससे वह व्यथित रहता था।

संदीप वारदात वाली रात 9ः30 बजे शंकर के घर आया । यहां शंकर ने संदीप पर चाकू से वार कर उसे घायल कर दिया और संदीप के अचेत होने पर उसका गला दबाकर हत्या कर दी। इतने में ही शंकर का गुस्सा कम नहीं हुआ और उसने आरी से शव के तुकड़े-तुकड़े कर दिए।

धड, पैर, सिर को काटकर तीन अलग-अलग हिस्सों को अपनी साइकिल में लादकर तीन तालाब के दिशा में फेंक दिया। आरोपी के कबूलनामे के बाद उसके निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त आरी, साइकिल तथा शरीर के शेष भाग को जब्त किया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network