रायगढ़ (नईदुनिया प्रतिनिधि)। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का लहर का प्रकोप थमने के बाद इस वर्ष फिर असर बढ़ने लगा है हालांकि इसके गिरफ्त में आने वाले लोग कोई गम्भीर स्थिति में नही है। इसके चलते भाई बहन के प्रेम प्रतीत रक्षा बंधन के अवसर पर बहनेने भाई के कलाई में सुरक्षा उपाय के साथ 11 अगस्त को श्रद्घा-उल्लास से मनाएंगे ।

इसके लिए शहर सहित ग्रामीण अंचल में राखी बाजार सजकर तैयार हो गया है। रक्षाबंधन पर्व को लेकर लोगो मे भारी उत्साह दुकानों में भीड़ को देखकर प्रतीत हो रहा है।

कोरोना वायरस ने हर पर्व त्योहार को फीका कर दिया है लेकिन इस वर्ष पिछले सालों की अपेक्षा रक्षाबंधन के मौके पर जहां बाजारों में रौनक नजर आ रही है। दअरसल इसकी वजह कोरोना काल के दूसरे लहर का असर कम होना1 है। इसका फायदा बाजार में नजर आ रहा है । फिलहाल बाजार में सजाए गए दुकानो में ग्राहकों की भीड़ बढ़ते ही कोरोना के भय को भुला दिया गया है। देखा जाए तो राखी पांच दिन शेष रह गए हैं, लेकिन रक्षाबंधन त्योहार पर बाजार में धीरे धीरे रौनक बढ़ने लगा है।

यहां यह बताना लाजमी होगा कि रक्षाबंधन के पर्व को भाई और बहन के अटूट प्रेम की निशानी का प्रतीक माना जाता है। इस दिन बहने अपने भाइयों की कलाई पर राखी बांध कर उनसे अपनी रक्षा का वचन लेते हुए उनकी लंबी उम्र की दुआएं भी मांगती है, भाई भी बहनों की रक्षा का वचन देते हुए

उन्हें उपहार भी देते है। इस त्योहार के लिए उत्साह हर किसी के दिल में साफ दिखाई देता है। लेकिन बाजारों में इसकी रौनक देखा जा रहा है। शहर व कस्बों के बाजार भी रक्षाबंधन के त्योहार पर पूरी तरह से गुलजार हो गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close