खरसिया (नईदुनिया न्यूज)। ग्राम पामगढ़ में हंसी मजाक के बीच गांव में रहने वाले महादेव पटैल (48) की बात गौरीशंकर पटैल को इतनी बुरी लगी कि उसने अपने दो साथियों के साथ महादेव पटैल की लात घुसे मारकर जान ले ली । एसडीओपी खरसिया निमिषा पाण्डेय के मार्गदर्शन पर टीआई सुमंत राम साहू स्टाफ के साथ ग्राम पामगढ़ पहुंचे और तीनों आरोपितों को हिरासत में लेकर थाना लाया । आरोपितों ने अपना अपराध

कबूल कर लिया है।

घटना के संबंध में महादेव पटैल पिता घसियाराम पटैल निवासी पामगढ़ थाना खरसिया के छोटे भाई हरमन लाल पटैल (45) ने 10 नवंबर को थाना खरसिया में शिकायत दर्ज कराते हुए बताया कि इसके बड़े भाई महादेव पटैल दोपहर तीन बजे गांव के प्रेम चौक की ओर घूमने गया था। गांव के गौरी शंकर पटैल के घर के पास गौरी शंकर पटैल अपने साथी सुमन पटैल व भूषण पटैल के साथ खड़ा था । सभी आपस में बातचीत कर रहे थे, तभी महादेव पटैल हंसी मजाक में गौरी शंकर पटैल के परिवार की बेटी पर टीका-टिप्पणी किया। इससे गौरीशंकर का महादेव से विवाद हो गया। विवाद बढने पर गौरी शंकर, सुमन और भूषण महादेव की पिटाई कर दी। शोर सुनकर महादेव के भाई ने बीच बचाव किया और महादेव को खरसिया के शासकीय अस्पताल पहुंचाया। यहां डाक्टर ने महादेव को मृत बताया । तीनों आरोपितों पर हत्या का अपराध पंजीबद्घ किया गया है। आरोपियों की गिरफ्तारी में उप निरीक्षक गंगा प्रसाद बंजारे हवलदार लक्ष्मीनारायण राठौर, आरक्षक विशोब सिंह, मुकेश यादव, योगेश साहू, रमेश, बरेठ, जय सिंह, हेमलाल, शाबिल चंद्रा, सोहन यादव की अहम भूमिका रही।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local