खरसिया (नईदुनिया न्यूज)। एक ओर खरसिया रेल स्टेशन जंक्शन बन रहा है दूसरी ओर प्लेटफार्म में पसरी अव्यवस्था यात्रियों के लिए दुर्घटना का सबब बन सकती है। प्लेटफार्म नंबर दो की दुर्दशा है। यहां जगह-जगह टाइल्स उखड़ी है।

पानी भरा है। लगातार पानी होने की वजह से इस जगह से फिसलन भी हो गई है, जो यात्रियों के लिए कभी भी दुर्घटना का कारण बन सकती है। वहीं प्लेटफार्म पर लाइट एवं पानी का अभाव भी लोगों को खलता रहता है। खरसिया नगर दो भागों में बसा हुआ है। वहीं बीच में रेलवे स्टेशन है। रेलवे ने इस पार से उस पार जाने के लिए विशालकाय सीढ़ी बना दी हैं, जो हर किसी के लिए मुसीबत बनी हुई हैं। हमालपारा की ओर से रेलवे टिकट के लिए आने हेतु तीन विशालकाय सीढ़ीयों को पार करके आने की मजबूरी बनी हुई है। रेलवे द्वारा इस हेतु किसी प्रकार का समाधान नहीं दिया जा रहा है, जबकि हमालपारा की ओर यदि टिकट काउंटर प्रारंभ हो जाए तो आधे लोगों की मुसीबत हल हो जाए। परंतु रेलवे द्वारा महज आश्वासन ही दिया जा रहा है। यहां पर ना तो कोच-डिस्प्ले है और ना ही यात्रियों के लिए किसी प्रकार की सुविधा।

रेलवे फाटक अक्सर रहता है बंद खरसिया के लिए लंबे समय से ओवरब्रिज बीच की मांग की जा रही है। परंतु आश्वासनों पर ही लंबा समय बीत रहा है। हर दिन लोगों को इस पार से उस पार जाने के लिए रेलवे फाटक पर घंटों खड;ा होना पड;ता है। रेलवे की इन समस्याओं को लेकर रायगढ; संसद गोमती साय ने तथा जनता जोगी दल के अध्यक्ष अमित जोगी ने भी अवगत कराया है। परंतु रेलवे महाप्रबंधक आलोक कुमार के द्वारा सिर्फ आश्वासनों का झुनझुना थमाया जा रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close