रायगढ़ (नईदुनिया प्रतिनिधि)। सर्प रक्षक टीम के सदस्य से मारपीट कांड के बाद कार्रवाई नही होंने व दुर्व्यवहार से क्षुब्द विनितेश तिवारी ने एसपी दफ्तर में दोपहर से देर रात तक धरने में बैठ गए थे, उनके समर्थन में आमजनता व विभिन्न संगठन एवं भाजपा नेता भी खड़े हो गए थे, आंदोलन सुबह भी चालू हो गया था। जिस पर एएसपी के आश्वासन के बाद धरना प्रदर्शन स्थगित हुआ है। आपराधिक तत्वों के मारपीट से भड़के जनाक्रोश के बाद देर रात चक्रधर नगर पुलिस ने दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। वारदात में शामिल फरार अन्य आरोपितों की खोजबीन की जा रही हैं।

30 नवंबर को मधुवनपारा में रहने वाले विनितेश तिवारी के साथ मारपीट की घटना घटित हुई थी। जिसमें जिमी बजाज पिता देवराम लाल बजाज उम्र 19 साल निवासी रामभाटा थाना कोतवाली रायगढ़ ,दुर्गेश सारथी पिता रोहिदास सारथी उम्र 28 साल केलो विहार पुलिस कालोनी चक्रधरनगर थाना का नाम आया था। प्रार्थी विनितेश तिवारी द्वारा रात्रि मां विहार कालोनी पेट्रोलपंप के पास आरोपी सोनी पाण्डे, जिमी साव एवं उनका एक अन्य साथी द्वारा गाली गलौच, मारपीट करने की रिपोर्ट थाना चक्रधरनगर में दर्ज कराया गया था जिस पर चक्रधरनगर पुलिस द्वारा आरोपियों के विरूद्घ धारा 294, 323, 324, 327, 34, 355, 506(बी) आइपीसी के तहत अपराध पंजीबद्घ कर विवेचना कर रही थी।

आरोपित जेल से जमानत में छुटकर कार आगजनी व दीवाली के दिन मारपीट भी किए थे जिसकी शिकायत थाने में दर्ज है इसके अलावा अन्य कई शिकायत थाने में लंबित हैं। ऐसे में विनितेश तिवारी के साथ घटितघटना से शहर को उद्देलित कर दिया।आलम यह रहा कि लोग समर्थन में धरने ओर आकर बैठ गए जिससे पुलिस विभाग बैकफुट में चली गई और दो नामजद आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेजी हह्वी फरार लोगो की पतासाजी कर रही है

सर्प रक्षक दल का सदस्य शिकायत लेकर आये थे। हमने उन्हें आश्वासन दिया कि जिस तरह की कार्रवाई चाहते है पुलिस मदद करेगी लेकिन वे एकाएक बदतमीजी पर उतर आया और अनर्गल बातें करने लगे। इस पर गार्ड को बुलाकर उनको बाहर ले जाने कहा गया। इससे नाराज होकर वे धरने पर बैठ गए । मारपीट के दो आरोपितों को पकड़ लिया गया है।

-अभिषेक मीणा, पुलिस अधीक्षक रायगढ़

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local