रायगढ़ (नईदुनिया प्रतिनिधि)। घरघोड़ा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम झांकादरहा से दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है जिसमें सात दिन से मेकाहारा में भर्ती मरीज स्वास्थ्य लाभ लेकर वापस अपने गांव पुत्र की बाइक से लौट रहा था जिसे वेन ने अपनी चपेट में ले लिया। दुर्घटना में घायल को वापस मेकाहार उपचार के लिए लाया गया जहां डाक्टरो ने उसे मृत घोषित कर दिया।

मिली जानकारी के मुताबिकसरवन कुमार चौहान पिता ननकी उम्र 65 वर्ष ग्राम झांका दरहा घरघोड़ा थाना क्षेत्र का रहने वाला है। ग्रामीण की पुत्री पुष्पा ने पुलिस को बताया कि उसके पिता का विगत कुछ दिनों से स्वास्थ्य खराब होने की वजह से मेकाहारा में उपचारत थे। जहां शुक्रवार को डिस्चार्ज होने के बाद गृह ग्राम जाने सरवन अपनी पत्नी के साथ बस से घरघोडा आया वहां उसके पुत्र दिनेश चौहान ने अपने मोटरसाइकिल से ग्राम झांका दरहा ले जाने के लिए लेने पहुच। इस बीच करीब 11 बजे जैसे वह अटल चौक के करीब सामने से आ रही वेन क्रमांक सीजी 13 वाय 2070 का चालक तेजी व लापरवाही वाहन को चलाते हुए अपनी चपेट में ले लिया। इससे पिता पुत्र व युवक की माँ दूर छिटक गए। जिसमें सभी जख्मी हो गए, किंतु सरवन के सिर व पैर हाथ मे अधिव चोट आने की वजह से वह अचेत अवस्था मे था। जहां राहगीरों ने डायल 112 के माध्यम से किसी तीनों घायलों को इलाज के लिए घरघोड;ा सिविल अस्पताल लेकर गए जहां डाक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद दिनेश चौहान व उसकी माता को छुट्टी दे दिया, सरवन की हालत को देखते हुए तत्काल रायगढ; मेडिकल कालेज फिर से रिफर कर दिए जहां सरकारी एंबुलेंस परिजन रायगढ; लेकर आए वही मेकाहारा मौजूद डॉक्टर ने आरंभिक उपचार को दौरान सरवन को मृत घोषित कर दिया। विदित हो कि जिले में सड़क दुर्घटनाओं का क्रम लगातार जारी है। पिछले कुछ महीनों से सड़क दुर्घटनाएं का ग्राफ पिछले 3 साल का रिकार्ड को तोडकर रख दिया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close