रायगढ़ (नईदुनिया प्रतिनिधि) । रविवार की शाम महानदी के कलमा बैराज में मछली पकड़ने गए मछुआरा दंपती का नाव पलटने से मछुआरन गहरे पानी में डूब गई। काफी प्रयास के बाद भी महिला के नहीं मिलने पर गोताखोरों को बुलाया गया। गोताखोरों ने आज नदी के बीच से महिला का शव बरामद किया।

सरिया थाना क्षेत्र के ग्राम बरगांव के कुछ लोगों ने एक महिला के महानदी में कलमा बैराज के पास गहरे पानी में डूबने की सूचना दी। इस पर थाना प्रभारी सरिया उप निरीक्षक कमल किशोर पटेल अपने दल के साथ कलमा बैराज जमड़ी घाट पहुंचे । यहां ग्राम बरगांव के संतोष मांझी ने बताया कि 22 मई की शाम पांच बजे वह नाव पर अपनी पत्नी जनता मांझी (26) के साथ मछली मारने आया था । लगभग छह बजे आंधी आने से नाव पलट गई और पति पत्नी डूबने लगे। दोनों ने तैरकर पानी से बाहर आने का प्रयास किया, उसने पत्नी को खींचकर पानी से निकालने का काफी प्रयास किया लेकिन गहराई ज्यादा होने के कारण वह उसे निकाल नहीं पाया। किसी पानी से बाहर निकलकर वह गांव पहुंचा और इसकी जानकारी ग्रामीणों को दी। इसके बाद वह कुछ ग्रामीण थाना पहुंचे और घटना की सूचना सरिया पुलिस को दी। इस पर पुलिस गांववालों के साथ मौके पर पहुंची और आसपास महिला की तलाश की । अंधेरा होने की वजह से कोई जानकारी नहीं मिली। देर रात सभी वापस आ गए। थाना प्रभारी ने मामले की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को दी। इसके बाद सोमवार को पुलिस तथा नगरसेना के गोताखोरों की टीम को मौके पर भेजा गया। यहां गोताखोरों की टीम ने कमला बैराज जमड़ी घाट एवं नदी के आसपास महिला की तलाश की। महिला का शव बीच नदी में मिला, जिसे स्टीमर बोट के सहारे नदी के बाहर लाया गया । सरिया पुलिस मर्ग कायम कर पंचनामा के बाद शव को पोस्ट मार्टम के लिए भेजा ।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close